टेलर मास्टर ( दर्जी) का बेटा बना इंजीनियर , अब डिप्टी मैनेजर बन लेता है लाखो की सैलरी

Tailer Master Son Engineer

बिहार राज्य के रोहतास जिले के बिक्रमगंज के वाज़िद अली की स्टोरी है प्रेरणा दायक। आप भी पढ़े कैसे हिन्दी मीडियम के सरकारी स्कूल में पढने वाला दर्जी का बेटा बना इंजीनियर। वाजिद अली के पिता का नाम साहेब अली है और इनके बड़े भाई का नाम साजिद अली है। वाजिद की सफलता में वाजिद की मेहनत के साथ उनके बड़े भाई साकिर अली ,साजिद अली, और गुरु आरके श्रीवास्तव का बहुत बड़ा योगदान है।

उनदिनो साजिद अपने बड़े पापा की दुकान ( ROYAL TAILOR) पर रह कर कपड़ा सिला करते थे। परन्तु समय बदला परस्थितियां बदला तो आज साजिद का अपना खुद का दुकान ( Actor TAILORS) हो गया। बड़े भाई साजिद अपने भाई वाजिद की सफलता पर गर्व करते है।वाजिद के इंजीनियर बनने के बाद अब परिवार की स्थिति पहले से बेहतर हुआ। वाजिद Dr. B.c. Roy engineering college Durgapur से बीटेक कर इंजीनियर बना।

अभी वर्तमान में Speedbit Technology Pvt. Ltd. डिप्टी मैनेजर के पद पर कार्यरत है। वाजिद बताते है की चाचा के लड़के साकिर अली ने इंजीनियरिंग कॉलेज की फी देने में भी काफी सहयोग किया था। बड़े भाई सजिद हमेशा गुरु आरके श्रीवास्तव की प्रशंसा करते नही थकते जिसने वाजिद को इंजीनियर बनने के लिये प्रेरित किया।

आरके श्रीवास्तव भी वाजिद के संघर्षो को एक प्रेरणा बताते है, आरके श्रीवास्तव ने बताया की जब फ़ोन पर वाजिद से बात हुआ तो मैने बोला वाजिद जी कैसे है अभी क्या हो रहा है। वाजिद ने तुरंत जवाब देते हुये कहा सर हमें जी कहकर न बुलाये आज भी आपके लिये वाजिद अली ही है और हमेशा रहेंगे, आपने जो शिक्षा में नि:स्वार्थ मदद हमें किया है उसको मेरा परिवार कभी भूलता नही,आपका चर्चा हमेशा घर में होता है। वाजिद की सारी बाते सुनकर आरके श्रीवास्तव ने कहा आप जैसे स्टूडेंट्स पर काफी गर्व होता है जो अपनी मिट्टी से आज भी जुड़े है।

You may have missed

You cannot copy content of this page