खत्म करो बिहार में शराबबंदी कानून! नीतीश की जिद ने आज बिहार को बर्बाद करके रख दिया है: लालू यादव

Bihar Ban

डेस्क: बिहार में शराबबंदी कानून लागू है, धरातल पर यह कानून कितना प्रतिशत लागू है, यह बात से तो आप लोग भली-भांति परिचित होगे, लेकिन इन सभी बीच बिहार के पूर्व सीएम राजद के सुप्रीमो लालू यादव लगातार इस कानून का विरोध करता रहा है, क्योंकि बंद होने के बाद सुबह में लगातार मौतों का आंकड़ा बढ़ रहा है, वो भी जहरीली शराब पीने से.. एक बार फिर लालू यादव बिहार में लागू शराबबंदी को खत्म करने की मांग कर दी है।

लालू ने कहा कि “मैंने पहले ही नीतीश को चेताया था कि बिहार में शराब रूकने वाला नहीं है, अब बिहार में खुलेआम शराब बिक रही है, सैकड़ो लोग जहरीली शराब से मर चुके हैं, और मर रहे है, लालू ने कहा कि नीतीश की जिद ने बिहार को बर्बाद कर दिया, सरकार को राजस्व की भारी क्षति हुई है, महिलाओं के कमरे में पुलिस घुस रही है, बिहार में शराबबंदी के नाम पर यही हो रहा है, शराब की बिक्री नहीं रूक रही है। खुलेआम दारू बिक रही है औऱ पुलिस प्रशासन सब फेल है। आगे उन्होंने कहा कि 2016 में शराबबंदी का एलान करने के बाद नीतीश कुमार मुझसे बात करने आये थे, उन्होंने कहा था कि शराब बंद कर रहे हैं, हमने उनको समझाया था कि इसे लागू करना बेहद मुश्किल है, बिहार के चारो ओर बंगाल, उत्तर प्रदेश, बंगाल, झारखंड, नेपाल में शराब बिकेगी तो हमारे यहां पहुंचेगी ही। हमने उसी समय नीतीश को कहा था कि शराबबंदी को सही से लागू करने का उपाय सोंच लो, लेकिन नीतीश नहीं समझे। अब खुलेआम होम डिलेवरी हो रही है, लोगों की मौत हो रही है औऱ सरकार का हजारों करोड रूपया का टैक्स भी गया।

बिहार में शराबबंदी कानून खत्म होनी चाहिए: उन्होंने साफ तौर पर कहा नीतीश बिहार में शराबबंदी कानून खत्म करेंगे या नहीं ये तो नीतीश कुमार जानें..लेकिन हमने तो पहले ही कहा था कि शराबबंदी चलने वाली नहीं है, इसलिए इसे खत्म कर देना चाहिए, बिना सोंचे विचारे फैसला ले लिया, फेल तो हो गया पूरी तरीके से शराबबंदी।

You cannot copy content of this page