पंचायत चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने जारी किए सिंबल, यहां देखें नए सिंबल की सूची

Panchyat Chunao Bihar Symbol

न्यूज डेस्क : बिहार में आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग की तैयारी जोरों पर है। आयोग के सूत्रों के मुताबिक अक्तूबर-नवंबर तक के सभी पर्व-त्योहारों को ध्यान में रखकर मतदान की तैयारी की जा रही है। इस बीच आयोग ने चुनाव को लेकर सभी जिलों से 10 चरणों में मतदान कार्यक्रम की रिपोर्ट तैयार प्राप्त कर ली है। तथा इस बार चुनाव में 850 मतदाताओं पर एक मतदान केंद्र का गठन किया गया है। साथ ही इस बार छह पदों पर नामांकन पत्र दाखिल करने वाले प्रत्याशियों को ऑनलाइन नामांकन पत्र दाखिल करने का विकल्प दिया गया है। आयोग ने कहा है कि जो उम्मीदवार ऑनलाइन नामांकन पत्र दाखिल करना चाहते हैं उनको राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर प्रारूप उपलब्ध है। इस बार सामाजिक दूरी (Social Distance) को निर्धारित मानकों को चिन्हित करके प्रत्येक मतदान केंद्रों पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी।

6 पदों के चुनाव के लिए सिंबल जारी: आयोग ने सभी 6 पदों के लिए सिंबल जारी कर दिया है। बता दे की मुखिया पद के लिए कुल 36 चुनाव चिह्न बनाए गए हैं। वहीं जिला परिषद के लिए 20, पंच प्रत्याशी के लिए 10, सरपंच पद के लिए 21 और पंसस के लिए 10 सिंबल जारी किए गए हैं। बता दें कि राज्य निर्वाचन आयोग पहले ही स्पष्ट कर चुका है बिहार पंचायत चुनाव राजनीतिक दलों के आधार पर नहीं होगा। ऐसे में किसी राजनीतिक पार्टी के लिए अधिकृत सिंबल पंचायत चुनाव में इस्तेमाल नहीं किए जाएंगे। 

मुखिया पद के लिए चुनाव चिन्ह: मुखिया पद के लिए यह चुनाव चिन्ह बनाया गया है। जैसे – मोतियों की माला, ढोलक, कलम और दावात, टेंपू, पुल,बैगन, ब्रश, चिमनी, कैमरा, मोमबत्तियां, काठगाड़ी, ब्लैक बोर्ड, गाजर, बाल्टी, मोर, हंसिया, जग, केतली, कुंआ, सेव, डीजल पंप, टॉफी, छड़ी, मोबाइल, सीटी, चुड़ियां, टोकरी, जंजीर, टेलीविजन, ऊंट, किताब, तोता, वायुयान, उगता हुआ सूरज, खजूर का पेड़ व पपीता चुनाव चिह्न के रुप में निर्धारित किया गया है। 

जिला परिषद के लिए चुनाव चिन्ह: जिला परिषद के के लिए यह चुनाव चिन्ह बनाया गया है। जैसे- पतंग, लेडी पर्स, लेटर बॉक्स, ताला और चाबी, मक्का, प्रेशर कुकर, रेल का इंजन, आरी, अंगुर का गुच्छा, सिलाई की मशीन, स्लेट, मछली, वैन, मेज, टेबुल लैंप, गैस का चूल्हा, कांच का गिलास, हारमोनियम, टोप तथा जलता हुआ दीया। चुनाव चिह्न के रुप में निर्धारित किया गया है।

पंच के लिए चुनाव चिन्ह: ग्राम कचहरी के पंच पद के प्रत्याशियों के लिए चुनाव चिह्न निर्धारित किए गए है। जैसे- गुड़िया, चापाकल, कुर्सी, टॉर्च, ट्रैक्टर, सीढ़ी, तराजू, डमरू, कबुतर व बल्ला निर्धारित किया गया।

सरपंच पद के लिए चुनाव चिन्ह: सरपंच पद के लिए चुनाव चिह्न तय किए गए है। जैसे – स्टोव, मोटरसाईिकल, नल, बल्व, चौका-बेलन, जोड़ा बैल, स्टूल, बगुला, लडडू, हल, टमटम, बांसुरी, टाईपराइटर, माचिस, छाता, भोजन की थाली, खल-मूसल, पानी का जहाज, ट्रक, चरखा व खूरपी शामिल हैं। 

पंसस के लिए: समिति सदस्य पद के चुनाव के लिए जैसे – नारियल, चारपाई, कप और प्लेट, कंघा, बरगद का पेड़, डोली, फ्रॉक, कुदाल, गैस सिलेंडर व जीप का चिह्न तय किया गया है।

You cannot copy content of this page