दरभंगा एक्सप्रेस-वे जुड़ेगा उत्तर से दक्षिण बिहार , वैशाली- राजगीर समेत इन जिलों को मिलेगा फायदा

Dharbhanga Expressway

डेस्क : बिहार में विकास की गति को और तेज करने के लिए जल्द ही आमस – दरभंगा ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। भाजपा प्रदेश कार्यालय में शुक्रवार को आयोजित एक सहयोग कार्यक्रम के बाद पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा है कि राज्य में रामायण सर्किट को जोड़ने वाले पथ आमस-दरभंगा से अब वैशाली, राजगीर, बोधगया को भी जोड़ दिया जायेगा। इसके अलावा यह कार्य तीन चरणों में किया जाएगा।

इस योजना में करीब ₹7000 करोड़ खर्च होने का अनुमान: पूरब से पश्चिम कोरिडोर को जोड़ने वाली आमस-दरभंगा ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे बिहार के विकास को नई गति देगा। माना जा रहा है की रामायण सर्किट पथ एक से डेढ़ वर्ष में पूरा हो जायेगा। सात जिलों से होकर गुजरने वाले इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण पर साढ़े सात हजार करोड़ रूपये के खर्च का अनुमान है। पथ को भारतमाला प्रोजेक्ट में लेने का प्रस्ताव दिया गया था । इसके साथ ही इंडो- नेपाल पथ को फोरलेन करने का भी प्रस्ताव केंद्र को सौंप दिया गया है।

पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा : पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि सरकार जल्द ही बिहार पुल मेंटेनेंस पॉलिसी लाएगी। इस पॉलिसी के आने से जल्द ही सभी पुलों के नीचे से अवैध कब्जा हटा दिए जाएंगे। यही नहीं उन्होने यह भी कहा कि राज्य की सभी सड़कों और पुलों की मरम्मत करा कर इन्हे योग्य बनाया जायेगा। इनकी देखभाल को लेकर विभागीय स्तर पर खासतौर से ध्यान दिया जा रहा है। इसके साथ ही पुलों पर समुचित लाइट की व्यवस्था की जाएगी।

You cannot copy content of this page