बिहार : बिना जानकारी लोगों के बैंक खातों से गायब हुए करोड़ों रुपए, कई महीनों से हो रहा था ये काम -मचा हड़कंप

Buxar

डेस्क : एक समय ऐसा था जब लोग घरों में पैसा छुपा कर रखते थे। लेकिन धीरे धीरे समय बदला और जमाना बदला और साथ ही लोगों की मानसिकता भी बदली। सरकार द्वारा बैंकों को नेशनलाइज किया गया और लोगों ने बैंकों पर विश्वास करना शुरू कर दिया। ऐसे में अब हर नागरिक बैंक में खाता खुलवाता है और अपना पैसा जमा करता है, मामला बिहार के बक्सर जिले के सिमरी प्रखंड के आशा पड़री ग्रामीण बैंक का है जहाँ ग्राहकों के मुताबिक अलग-अलग तारीख को बैंक ग्राहकों के खातों से लाखों रुपयों की निकासी कर ली गई है।

बता दें कि लोगों ने बैंक पर आरोप लगाया है कि बैंक ने उनके करोड़ों रुपए हवा कर दिए हैं। पैसे गायब होने की खबर मिलते ही सारे गांव वाले बैंक पहुंचे और उन्होंने बैंक में हंगामा किया। लोगों ने साफ कहा है कि बिना बैंक कर्मचारियों की मदद से पैसा गायब नहीं हो सकता। ऐसे में जब लोगों का आक्रोश बैंक मैनेजर ने देखा तो वह वहां से फरार हो गया। सभी खाताधारकों ने फैसला किया है कि वह अब बड़े अधिकारियों को इसकी शिकायत करेंगे। बता दें कि कुछ लोग बैंक में बीते मंगलवार को पासबुक अपडेट करवाने गए थे। जब उन्होंने पासबुक अपडेट करवाई तो उनको बैलेंस में ऊंच-नीच नजर आई। पासबुक में साफ नजर आया कि लाखों रुपए उनके अकाउंट से निकाल लिए गए हैं। जब ऐसा एक नहीं कई लोगों के साथ हुआ तो सभी लोग एक साथ बैंक में पहुंचे और जमकर प्रदर्शन किया।

जब मीडिया कर्मियों ने हंगामा कर रहे लोगों से एक-एक करके पूछा तो सतीश कुमार नाम के खाताधारक ने बताया कि उनके बैंक से पिछले साल नवंबर में 1 लाख 40 हजार और 10 लाख रुपए निकाले गए हैं। वहीं दूसरी तरफ एक खाताधारक ने कहा कि मेरे बैंक अकाउंट से 10 लाख रूपए निकाले गए हैं। इस क्रम में महिलाओं का नाम भी शामिल है, जिसमें कलावती देवी नाम की खाताधारक का कहना है कि उनके अकाउंट से 49 हजार की निकासी की गई है जिसका उनको बिल्कुल भी पता नहीं है।

You cannot copy content of this page