बिजली स्मार्ट मीटर घर के अंदर नहीं लगा पाएंगे उपभोक्ता , BSNL के अलावे JIO का सिम भी डाला जाएगा

Prepaid Smart Meter

न्यूज डेस्क : सरकार ने बिजली चोरी रोकने के लिए एक अभियान छेड़ा है। इस अभियान के तहत बिजली विभाग ने घर-घर “स्मार्ट मीटर” लगाने की प्रक्रिया शुरू की। बता दे की यह मीटर लग जाने से उपभोक्ताओं को काफी फायदे होंगे। स्मार्ट मीटर लगने के बाद उपभोक्ता को बिजली बिल के झंझट इसे छुटकारा मिल जाएगा। मोबाइल की तरह रिचार्ज होने वाले इन मीटरों में जितने का रिचार्ज करोगे उतनी ही बिजली खर्च कर पाओगे। लेकिन, बिहार में “स्मार्ट मीटर” लगाने की रफ्तार बेहद सुस्त है। इसकी वजह से कहीं न कहीं “स्मार्ट मीटर” में जंपिंग रीडिंग भी है। उपभोक्ता अक्सर इस मीटर का शिकायत कर रहे है। उपभोक्ता की माने तो बैलेंस बगैर बिजली इस्तेमाल के ही कट जाता है। इन्हीं समस्याओं को दूर करने के बिजली कंपनियों ने अब नया कदम उठाया है। साथ ही साथ स्मार्ट मीटर से छेड़छाड़ करने वाले लोगों से निपटने के लिए भी नया फैसला किया गया है। 

स्मार्ट मीटर अब घर के बाहर लगाए जाएंगे: बिजली कंपनियों की माने तो उपभोक्ता अब स्मार्ट मीटर घर के अंदर नहीं लगा पाएंगे। ये स्मार्ट मीटर अब घर के बाहर ही लगाए जाएंगे। विद्युत विवरण कंपनी पेसू ने इसको लेकर सभी मीटर एजेंसियों को गाइडलाइन जारी कर दिया है। पेसू का मानना है कि मीटर बाहर लगने से नेटवर्क की समस्या नहीं होगी। घर के अंदर मीटर लगने से कहीं ना कहीं नेटवर्क कमजोर रहता है जिससे मीटर रिचार्ज के बाद भी बिजली देर से आने की शिकायत रहती है। घर के बाहर मीटर लगने से उपभोक्ताओं की शिकायत दूर हो सकती है और मीटर से छेड़छाड़ के मामलों में भी कमी आएगी। घर के बाहर जब मीटर लगा रहेगा तो उपभोक्ता उसके साथ छेड़छाड़ कम करेंगे।

स्मार्ट मीटर में अब सिम का भी इस्तेमाल होगा: बता दें कि स्मार्ट मीटर में अब बीएसएनएल (BSNL)सिम के साथ साथ जियो (JIO) का सिम भी लगाया जा रहा है। अब दो सिम नेटवर्क वाले “स्मार्ट मीटर” लगाए जाएंगे। जहां जिसका नेटवर्क बेहतर होगा वह सिम यूज हो जाएगा। अभी फिलहाल, स्मार्ट मीटर में बीएसएनएल सिम का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन अब नए स्मार्ट मीटर में जियो के 4G सिम का नेटवर्क यूज हो सकेगा। इसके फास्ट नेटवर्क से लोगों की शिकायतें कम हो सकेंगे।

You may have missed

You cannot copy content of this page