चिराग पासवान ने माना टूट चुकी है लोजपा, कहा – जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष जोड़ने के बजाय तोड़ने में हैं माहिर , मिल गया ईनाम

Lojpa

न्यूज डेस्क : JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह के बिहार पहुचते ही विपक्षी पार्टियों के नेता तंज कसने से पीछे नही हट रहे है। ऐसे में लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान कहां पीछे रहने वाले थे । उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा है कि जदयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ललन सिंह को ‘जोड़ने का अनुभव है या नहीं, यह वे नहीं जानते लेकिन तोड़ने का अनुभव तो उन्‍हें जरूर है’। चिराग सीधा हमला करते हुए कहा कि लोजपा को तोड़ने में उनकी अहम भूमिका रही है। साथ ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार को पीएम मैटेरियल बताए जाने पर भी उन्‍होंने कटाक्ष किया। यूँ कहें कि पूरे जदयू (JDU) पर चिराग पासवान खूब बरसे । आशीर्वाद यात्रा पर निकलने से पहले चिराग ने कहा कि यूपी में उनकी पार्टी के कई विधायक होते थे। उनके पिता का वहां बड़ा जनाधार रहा है। संसदीय बोर्ड की बैठक में इसका फैसला हो जाएगा। गठबंधन का क्‍या स्‍वरूप होगा, या कैसे चुनाव लड़ा जाएगा, इसपर निर्णय महीने भर में होगा। 

लोजपा तोड़ने का मिला ईनाम ललन सिंह को राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनाए जाने के बाद जदयू के एक नेता की इस बयान पर कि उनके सामने कोई नहीं टिक सकता पर चिराग ने कहा कि ‘वे खुद अपनी पार्टी में कैसे टिक पाए हैं, वे खुद समझते होंगे’। आगे कहते है कि उन्‍हें यह पोस्‍ट लोजपा को तोड़ने के   इनाम स्वरूप मिला है। उन्‍हें तोड़ने का बड़ा अनुभव रहा है। नीतीश कुमार को पीएम मैटेरियल बताए जाने पर उन्‍होंने भरकते हुए कहा कि पहले वे सीएम मैटेरियल बन जाएं। चिराग आज किसी को बख्शने के मूड में नही नज़र आ रहे थे।

बताते चले कि चिराग पासवान पिछले विधानसभा चुनाव के समय से ही सीएम नीतीश कुमार को पर बरसने का एक मौका नही छोर रहें हैं। नीतीश कुमार के प्रति चिराग का यह रूप ही कहीं न कहीं आज उनको कहीं का नही छोड़ा है। विस चुनाव 2020 में जदयू के उम्‍मीदवारों के विरोध में चिराग ने लोजपा का प्रत्‍याशी खड़ा कर दिया था। हालांकि इस जदयू को काफी नुकसान भी हुआ, कहा जाता है कि इसी का बदला जदयू ने लोजपा की तोड़कर लिया। चिराग पासवान अपनी पार्टी में टूट के लिए लगातार जदयू पर आरोप लगा रहे हैं।

You may have missed

You cannot copy content of this page