नई नवेली दुल्हन का करिश्मा: 17 दिन पहले हुई थी शादी, अब बन गई पंचायत की मुखिया..लोगो ने कहा बहू हो तो ऐसी

PANCHYAT CHUNAO

डेस्क: बिहार में पंचायत चुनाव का दौर जारी है, ऐसे में अगर हम प्रत्याशी की बारे करें तो 21 साल की लड़की से लेकर 80 साल के बुजुर्ग तक इस पंचायत चुनाव में अपना ताकत झोंक रहे हैं, कई मामले ऐसे भी आए जहां 70 वर्ष के बुजुर्ग नाबालिग से शादी कर अपना मुखिया सीट जमाने की फिराक में है,

ताजा मामला बिहार के गोपालगंज से आया है, जहां पंचायत चुनाव के सातवें चरण के परिणाम में एक नवविवाहिता मुखिया बनकर अपने क्षेत्र में चर्चित हो गई है, मिली जानकारी के मुताबिक, कुचायकोट प्रखंड की बनकटा पंचायत से महिला प्रत्याशी नीरा कुमारी मुखिया का चुनाव जीत गई है। नीरा के मुखिया बनते ही समर्थकों में जश्न का माहौल है। वहीं, पहली बार मुखिया बनने वाली महिला नीरा भी काफी उत्साहित हैं।

17 दिन पूर्व 1 नवंबर को हुई थी शादी: बताते चलें जी चुनाव जीती मुखिया मीना कुमारी बनकटा पंचायत के निवासी होमगार्ड के जिलाध्यक्ष दीनानाथ मांझी की बहू है। मांझी की पत्नी रामसवारी देवी का मायका उत्तर प्रदेश में है। इस कारण चुनाव आयोग के नियमानुसार उन्हें आरक्षण का फायदा नहीं मिलता। इस कारण दीनानाथ मांझी ने अपने पुत्र अरुण की शादी तत्काल रामपुर खरेया गांव में 24 अक्टूबर को नीरा कुमारी से तय की और 25 अक्टूबर को नामांकन पर्चा दाखिल कराया। 30 अक्टूबर को उन्हें सिंबल मिला।

इतना मतों से विजई हुई: जानकारी के लिए बता दें कि बीते सातवें चुनाव चरण के दौरान 15 नवंबर को मतदान हुआ था, बुधवार हुई मतगणना में उसके भाग्य का फैसला हुआ। और करीब 2356 मत पाकर नीरा चुनाव मुखिया बनीं। नीरा कुमारी ने अपने प्रतिद्वंद्वी निवर्तमान मुखिया कलीदया देवी को 1768 मतों के अंतर से पराजित किया। कलिदया देवी को सिर्फ 588 वोट मिले।

You may have missed

You cannot copy content of this page