सीबीआई ने लालू यादव के बेल में लगाया अरंगा, लालू यादव का पूरा परिवार प्रार्थना में लीन

Lalu Family

न्यूज डेस्क : आज रांची कोर्ट में चारा घोटाला के सज़ायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई होगी । देखना यह है कि कोर्ट उनकी जमानत याचिका मंजूर करती है या सीबीआई का दावा काम कर जाता है। सीबीआई ने जो जवाब कोर्ट में दाखिल किया है। उसके अनुसार लालू को अगले 3 साल तक जमानत नहीं मिलने के आसार हैं। इधर लालू यादव का पूरा परिवार और बिहार में उनके समर्थक जमानत याचिका मंजूर होने के लिए प्रार्थनाएं कर रहे हैं। लालू के बेटे तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव के साथ ही उनकी तमाम बेटियां भी अलग-अलग तरीके से अपने पिता की रिहाई के लिए प्रार्थना कर रही हैं।

लालू पक्ष का उम्र का हवाला तो सीबीआई ने कहा आधी सजा नहीं हुई पूरी लालू प्रसाद यादव की तरफ से कोर्ट बताया गया है। कि उनकी आधी सजा पूरी हो गई है। और वे इस मामले को लेकर अपील में भी गए हैं। लिहाजा उनकी उम्र और सेहत को देखते हुए जमानत दे दी जाए। दूसरी तरफ सीबीआई का कहना है कि लालू प्रसाद की आधी सजा अभी पूरी नहीं हुई है। उन्हें 7-7 साल की दो सजाएं हुई हैं और दोनों सजाएं अलग-अलग चलनी हैं। इस लिहाज से उन्हें लगातार 14 साल जेल में रहना है और उनकी आधी सजा 7 साल जेल में रहने के बाद पूरी होगी। सीबीआई ने इस आधार पर लालू की याचिका पर सवाल उठाए हैं और उन्हें जमानत देने का पुरजोर विरोध किया है।

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप ने नवरात्र में देवी की आराधना कर अपने पिता के लिए रिहाई के लिए प्रार्थना की तो दूसरी तरफ तेजस्वी यादव ने झारखंड के देवघर स्थित बाबा बैजनाथ धाम और बाबा बासुकीनाथ धाम में हाजिरी लगाई। उनकी बहन रोहिणी आचार्य अपने पिता की रिहाई के लिए रोजा रख रही हैं। इसको लेकर बिहार में सियासत भी खूब हुई है। 

You may have missed

You cannot copy content of this page