3 February 2023

बिहार में अप्रैल से शुरू होगा जाति आधारित गणना, जानें – कैसे होगा गणना..

बिहार में अप्रैल से शुरू होगा जाति आधारित गणना, जानें - कैसे होगा गणना.. 1

डेस्क : बिहार में जातिगत गणना को लेकर तस्वीर अब साफ हो गयी है. अगले साल 1 अप्रैल से बिहार में जातिगत गणना का दूसरा चरण शुरू होगा. इसको लेकर सभी तरह की तैयारियां भी शुरू कर दी गयी हैं. बिहार में फिलहाल अभी 204 जातियों की सूची है. इससे इतर कोई भी जाति का होने का प्रमाणपत्र प्रस्तुत करने पर उसकी भी गणना होगी. इसका सर्वे CO कार्यालय से होगा. हालंकि, जातिगत गणना में उपजाति का कोई भी प्रावधान नहीं है.

इन सबकी की बनेगी सूची

बिहार सरकार की ओर से पहले चरण की तिथि की घोषणा के साथ ही अब दूसरे चरण के लिए भी तारीख अब निर्धारित कर दी गयी. दूसरा चरण 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक होगा. इस चरण में अपने काम के सिलसिले में राज्य से बाहर रहने वाले यानी प्रवासी बिहारी की भी गणना होगी. उनकी सूची में उनके राज्य या देश का नाम भी दर्ज होगा.

7 जनवरी से चलेगा पहला चरण

पहले चरण में 7 से 21 जनवरी के बीच मकान की नंबरिंग के साथ घर के मुखिया व सदस्यों का नाम भी दर्ज किया जायेगा. इसे पोर्टल पर अपलोड भी किया जायेगा, ताकि दूसरे चरण में होनेवाली गणना के दौरान तैयार सूची के साथ मिलान करने में परेशानी न हो. पहले चरण में गणना कर्मी प्रत्येक घर में रहनेवाले लोगों के घर कच्चा या पक्का की पूरी स्थिति, जमीन की स्थिति, वार्षिक आमदनी, घर के सदस्यों की शैक्षणिक स्थिति, रोजगार है या नही, है तो सरकारी या निजी आदि का विवरण लिया जायेगा.