9 February 2023

Patna से Delhi का सफर 5 घंटे में होगा पूरा – 350Km की रफ्तार से दौड़ेगी Bullet Train..

Bullet

Indian Railway : यदि आप भारतीय रेलवे से यात्रा करते हैं तो आपके लिए और बड़ी अच्छी खबर है। भारतीय रेल ने दिल्ली से पटना के बीच हाई स्पीड से चलाने की योजना बनाई है। ये योजना अब साकार होती नजर आ रही है। पटना से हाई स्पीड ट्रेन शुरू होने के बाद अब पटना से दिल्ली तक का सफर महज 6 घंटे में पूरा हो जाएगा। इस प्रक्रिया के लिए राज्य में हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के सर्वे का काम पूरा हो गया है। रेल कॉरोडोर का ट्रैक पूरी तरह से एलिवेटेड होगा। हाई स्पीड रेल ट्रेन का स्टेशन बक्सर, पटना और गया में बनाये जाएंगे।

350 किमी होगी रफ्तार : सामने आई जानकारी के अनुसार, 350 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हाईस्पीड बुलेट ट्रेन दौड़ेगी। कम समय में ज्यादा दूरी तय करने का लक्ष्य पूरा करने के लिए जापनी तकनीक पर आधारित रेलवे ट्रैक का निर्माण होना है। सर्वे के बाद केंद्रीय टीम ने बिहार के वरीय अधिकारियों के साथ डीपीआर पर विचार-विर्मश किया है। जिसके बाद एलिवेटेड रेलवे ट्रैक के लिए भूमि अधिग्रहण की तैयारियां भी हो रही है।

हालांकि पटना में स्टेशन के लिए अभी जगह का चयन नहीं हो सका है। पर कहा जा रहा है कि जल्द ही स्थान का चयन हो जाना है। पटना में स्टेशन बनाने के लिए बिहाटा और एम्स के पास तीन जगह प्रस्तावित है। इस बारे में रेल अधिकारियों का कहना है कि रेलवे की ओर से जैसी ही भूमि अधिग्रहण के लिए प्रस्ताव दिया जाएगा, इस दिशा में काम शुरू हो जाएगा।

पटना में ये जगहें हुईं चिन्हित : राजधानी पटना में हाई स्पीड ट्रेन के लिए एक रेलवे स्टेशन बनाए जाने की तैयारी है। इसके लिए 3 जगहों का चयन किया गया है। पहला बिहटा आईआईटी के पास है जहां यात्री स्टेट हाइवे-2 और बिहटा एकौना रोड का इस्तेमाल कर सकते हैं। दूसरा स्टेशन जगह पटना एम्स के पास चिन्हित की गयी है। यहां यात्री स्टेशन जाने के लिए एनएच 139 और भविष्य में पटना मेट्रो के प्रस्तावित रेलवे स्टेशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। तीसरी जगह बिहटा एयरपोर्ट के पास है।

हावड़ा से दिल्ली तक प्रस्तावित है स्टेशन : रेल अधिकारियों ने इस बारे में बताया कि ‘हाई स्पीड रेल के लिए नई दिल्ली से लखनऊ होते हुए वाराणसी पहला रूट होगा। फिर वाराणसी से बक्सर होते हुए पटना, गया, आसनसोल, धनबाद, दुर्गापुर और हावड़ा तक दूसरी रूट की लाइन होगी। हाई स्पीड ट्रेन संचालित करने का उद्देश्य देश के प्रमुख राज्यों में अवस्थित धार्मिक स्थलों को जोड़ने है। इसलिए उसी के अनुसार रूट तैयार किया जा रहा है।’

पटना के बाद गया जाएगा रूट : पटना तक जो ट्रैक आएगा वो वाराणसी से बक्सर होते हुए आना है। पटना के बाद यह गया की ओर से जाएगा। जिसके बाद गया से ट्रैक हावड़ा तक बनाया जाएगा। बिहार में इन्हीं तीन शहरों में स्टेशन बनाए जाएंगे। रेलवे की ओर से हाई स्पीड ट्रेन की रूट की डिजाइन स्थानीय तौर पर संबंधित राज्यों के प्रशासन को दे दी है। अब स्थानीय प्रशासन रूट के अनुसार अधिग्रहित की जाने वाली भूमि के स्वरूप के बारे में जानकरी ली जायेगी। जिसका मतलब है यदि जमीन सरकारी हो या निजी। उसके बाद ही अधिग्रहण की प्रकिया शुरू होगी।