ललन सिंह के पटना पहुंचते ही Bihar की राजनीति में गर्माहट, जानिए RJD ने क्यों कहा पार्टी टूटने से बचाएं बाद में मनाएं जश्न

Lalan Singh

न्यूज डेस्क : जनता दल यूनाइटेड (JDU) के राष्ट्रीय अध्यक्ष के कुर्सी पर बैठने के बाद पहली बार राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह आज पटना पहुंचे। ललन सिंह के स्वागत के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं ने जोरदार तैयारी की थी। उनके स्‍वागत के लिए पटना एयरपोर्ट पर हजारों की संख्या में पार्टी के नेता व कार्यकर्ता तथा समर्थक मौजूद थे। ललन सिंह एयरपोर्ट से कार्यकर्ताओं का अभिवादन करते हुए पूरे काफिले के साथ जेडीयू के प्रदेश कार्यालय पहुंचे।

जहां जनता दल यूनाइटेड (JDU) के कार्यकर्ता व समर्थकों में उत्साह है। वहीं राजनीति पर पकड़ रखने वाले लोगो के मुताबिक, बिहार की राजनीति एक अलग मोड़ ले सकती है। लल्लन सिंह एक कड़े स्वभाव व पार्टी के प्रति समर्पित नेता हैं। पटना पहने से पहले ही ट्वीट के जरिये बिहार के युवाओं को नसीहत देते दिख रहे थे। जिस वजह से बिहार की राजनीतिक गलियारों में बस इसकी चर्चा है। उन्होंने ट्वीट में लिखा था- “उम्र में बड़े लोगों से ज़रा पूछिएगा कि जंगल राज में शाम 6-7 बजे के बाद महिलाएं तो क्या पुरुष भी घर से बाहर निकलने की हिम्मत करते थे क्या ? बाज़ार में दुकानें बंद रहती थी, अपहरण उद्योग चलाने वाले मोटी रकम वसूलते थे। डर से लाखों लोग अपने दुकान-धंधा बेच कर बिहार से पलायन कर गये”।

वहीं आरजेडी, राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने निशाना साधते हुए कहा कि जेडीयू पहले ही कई गुटों में बंटी हुई है। जबकि आरसीपी सिंह के मंत्री बनने के बाद ये साफ भी हो गया है कि अब समारोह का आयोजन कर पार्टी अपनी खुनस मिटाने की कोशिश कर रही है। यही नहीं, जेडीयू ये मैसेज देने की प्रयास कर रही है, सब उत्तम है। हालांकि इसका कोई फायदा नहीं मिलने वाला है। जेडीयू के अंदर काफी खलबलाहट है और बहुत जल्द बड़ी टूट होने वाली है। ललन सिंह पहले अपनी पार्टी बचाने की कोशिश करें। बाद में कार्यकर्ता को कहे जश्न मनाने।

You cannot copy content of this page