9 February 2023

ये है बिहार का ‘मिनी सूरत’ – महज ₹30 में मिलेंगी ब्रांडेड साड़ी, नोट करें लोकेशन..

ये है बिहार का 'मिनी सूरत' - महज ₹30 में मिलेंगी ब्रांडेड साड़ी, नोट करें लोकेशन.. 1

डेस्क : वैसे तो देशभर में सिंथेटिक मटेरियल की साड़ियों के लिए गुजरात का सूरत शहर बेहद मशहूर है, लेकिन आज हम आपको बिहार में बसे एक मिनी सूरत के बारे में भी बताने जा रहे हैं. बिहार के नालंदा ज़िला मुख्यालय के बिहार शरीफ स्थित सोहसराय को मिनी सूरत भी कहा जाता है और एक तरह से यहां साड़ियों की मंडी लगी है. मंडी इसलिए भी कह सकते हैं ​क्योंकि 30,000 तक की साड़ी तो यहां है लेकिन सबसे सस्ती साड़ी आपको सिर्फ 30 रुपये में भी मिल जाती है.

सोहसराय छोटा सा बाज़ार है जहां भरपूर वैरायटी की साड़ियां बजी बिकती हैं. बिहार के अलावा यूपी, बंगाल, झारखंड और ओडिशा तक से व्यापारी यहां साड़ियां खरीदने भी आते हैं. ऑर्डर मिलने पर यहां से साड़ी इन प्रदेशों में सप्लाई भी होती है. यहां साड़ी की मंडी में 250 से 500 दुकानें भी हैं, जो थोक और खुदरा मूल्यों में बिक्री करती हैं. यह मंडी सैकड़ों परिवारों का घर भी चलाती है. सैकड़ों परिवार पुश्तैनी तौर पर धंधा भी कर रहे हैं. यहां के लोग यह भी बताते हैं कि आज़ादी के बाद से ही यह मंडी लगती आ रही है.

साड़ी के पुराने व्यवसायी राम दुलार प्रसाद और अशोक कुमार की मानें तो यहां पुरानी साड़ियों की भी खरीद की जाती है. इनमें नए टिकुली और स्टोन लगाकर, नया करके भी रीसेल भी किया जाता है. ऐसी साड़ी की कीमत ₹30 से ₹100 हो भी जाती है. कारोबारी यह बताते हैं लगन के सीजन में 250 से 300 बंडल साड़ियां यहां रोज ही बिकती हैं. सामान्यतः सीज़न में सिर्फ़ एक दुकान से 100 से 150 बंडल साड़ियों की बिक्री होती है. बिहार के इस मिनी सूरत में लाखों का मुनाफा हर वर्ष होता है.