बिहार में 3516 करोड़ रु की लागत से 70 निवेश प्रस्ताव को मिली मंजूरी, इथेनॉल के क्षेत्र में 2554 करोड़ का होगा निवेश..

Industry In Bihar

न्यूज़ डेस्क : कोरोना महामारी के इस कठिन दौर में कई देश के प्रसिद्ध कंपनियां बिहार का रुख कर रही हैं। आपको बता दें कि यह कंपनियां बिहार में निवेश करने को इच्छुक हैं। इसी संबंध में विकास आयुक्त आमिर सुबहानी की अध्यक्षता में हुई राज्य निवेश प्रोत्साहन पर्षद (एसआईपीबी) की 29वीं बैठक संपन्न हुई।

इस बैठक में 3516 करोड़ के 70 निवेश प्रस्ताव को स्टेज-1 क्लियरेंस प्रदान की गई। स्वीकृत प्रस्तावों में इथेनॉल व ऑक्सीजन उत्पादन समेत खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव शामिल हैं। 70 निवेश प्रस्ताव में 15 इथेनॉल क्षेत्र के हैं। जिसमें 2554 करोड़ निवेश प्रस्तावित है। जबकि, ऑक्सीजन उत्पादन इकाइयों के पांच प्रस्तावों को भी मंजूरी मिली है। इसमें 58.83 करोड़ निवेश होने की संभावना है। खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के 21 प्रस्ताव में 456.78 करोड़ और सामान्य मैन्यूफैक्चरिंग क्षेत्र के 16 प्रस्ताव में 296.48 करोड़ निवेश प्रस्तावित है।

ये कंपनी करेगी इन्वेस्ट: इन इकाईयों में मुख्यतः मेसर्स जेएसडब्ल्यू प्रोजेक्ट्स लिमिटेड (सज्जन जिंदल ग्रुप), मेसर्स हल्दीराम भुजियावाला लिमिटेड, मेसर्स माइक्रोमैक्स बायो फ्यूल्स प्रा.लि., मेसर्स इडेन स्मार्ट एग्रोटेक प्रा.लि, मेसर्स न्यूवे होम्स प्रा.लि, मेसर्स एलायंस इंडिया कन्ज्यूमर प्रोडक्ट्स प्रा.लि, मेसर्स न्यूजेन बायो फ्यूल्स प्रा.लि, मेसर्स बिहार डिस्टिलर्स एंड बॉटलर्स इंडिया प्रालि एवं मेसर्स शक्ति अर्थ मूवर्स एलएलपी शामिल है।

10 प्रस्तावों पर 270.15 करोड़ निवेश की स्वीकृति: राज्य निवेश प्रोत्साहन पर्षद ने अपनी पिछली बैठक में जिन प्रस्तावों को स्टेज-1 की स्वीकृति दी थी, उनमें से 10 निवेश प्रस्तावों पर वित्तीय प्रोत्साहन स्वीकृति प्रदान की गई। इनमे कुल निवेश राशि 270.15 करोड़ है। ये इकाइयां वाणिज्यिक उत्पादन में आने के बाद बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नीति, 2016 के अंतर्गत ब्याज अनुदान, स्टाम्प शुल्क, भूमि सम्परिवर्तन शुल्क, एसजीएसटी, विद्युत शुल्क इत्यादि अनुदान प्राप्त करने की पात्र होंगी.इन प्रस्तावों में खाद्य प्रसंस्करण की 4 इकाइयां (पूंजी निवेश -137.53 करोड़), इथेनॉल उत्पादन की 1 इकाई (पूंजी निवेश -96.76 करोड़) सामान्य विनिर्माण क्षेत्र की 2 इकाइयां (पूंजी निवेश-6.35 करोड़), प्लास्टिक-रबड़ प्रक्षेत्र की 1 इकाई (पूंजी निवेश-0.80 करोड़), हेल्थकेयर से संबंधित 01 इकाई (पूंजी निवेश-21.28 करोड़) व पर्यटन की 1 इकाई (पूंजी निवेश-7.44 करोड़) सम्मिलित हैं।

You cannot copy content of this page