शौचालय में रहने को मजबूर महिला की मदद करने नालन्दा पहुंची अक्षरा सिंह, दिया आर्थिक मदद

Akshara Singh

डेस्क : भोजपुरी सुपर गर्ल अक्षरा सिंह आज नालंदा जिले के करायपरशुराय प्रखंड में दिरीपर गाँव गयीं, जहां एक वृद्ध महिला कौशल्या देवी और उनकी 8 वर्षीय पोती धर्मशीला कुमार शौचालय में रहने को मजबूर हैं। अक्षरा ने वहां जाकर हालात का जायजा लिया और फिर उन्हें आर्थिक मदद दी। अक्षरा ने वृद्ध महिला के इस हाल को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि यह घटना रोंगटे खड़े कर देने जैसा है। मैं शॉक्ड हूं कि इस बूढ़ी मां के पास रहने को घर नहीं।

अक्षरा ने कहा कि मुझे इस बूढ़ी मां के बारे में जानकारी सोशल मीडिया के जरिये मिली। यह जानकर बेहद दुख हुआ कि एक बूढ़ी मां के पास घर नहीं है और वह इतनी गरीब है कि उनके पास सर छिपाने को छत नहीं है न ही उनके बुढ़ापे का कोई सहारा है। बस वे बिना मां बाप की 8 वर्षीय पोती के साथ रहने को मजबूर है। आज मैं यहां आकर उनकी मदद की और जरूरत पड़ी तो आगे भी मदद करूंगी। साथ ही मैं लोगों से अपील करूंगी कि वे भी ऐसे जरूरतमंद लोगों की मदद को आगे आये।।

आपको बता दें कि भोजपुरी फ़िल्म जगत और म्यूजिक इंडस्ट्री में अक्षरा सिंह किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। वहीं वे निजी जीवन में बेहद संवेदनशील और सामाजिक मूल्यों के साथ जीने वाली इंसान है। यही वजह है कि समय – समय पर वे अपनी सोशल रिस्पांसिबिलिटी का निर्वहन करती रहती हैं। इसी क्रम में आज उन्होंने नालन्दा की इस बूढ़ी माता की आर्थिक मदद की।

You may have missed

You cannot copy content of this page