29 January 2023

मार्च तक बनकर तैयार हो जाएगा अगुवानी – सुल्तानगंज महासेतु, जानें – कहां तक पहुंचा निर्माण कार्य..

मार्च तक बनकर तैयार हो जाएगा अगुवानी - सुल्तानगंज महासेतु, जानें - कहां तक पहुंचा निर्माण कार्य.. 1

न्यूज डेस्क : बिहार वासियों के लिए अच्छी खबर है। अगवानी और भागलपुर के सुल्तानगंज घाट के बीच फोरलेन महासेतु का निर्माण जोरों पर है। यह महासेतु गंगा नदी पर बनाया जा रहा है। इस पुल से लोगों की काफी उम्मीदें जुड़ी है। ऐसे में अब यह बात निकलकर आई है कि पुल मार्च 2023 तक तैयार कर ली जाएगी। महासेतु के तैयारbहोने पर लाखों लोगों का जीवन संवर जाएगा। रोजगार सृजन का भी कार्य होगा। हजारों व्यापारी फलने फूलने लगेंगे।

बता दें कि 3.160 किलोमीटर में 2660 मीटर में सुपर स्ट्रक्चर का काम पूरा हो चुका है और बाकी 500 मीटर पर काम चल रहा है. बताया जाता है कि गंगा की मुख्य धारा के बीच में करीब 500 मीटर सुपर स्ट्रक्चर का काम होना बाकी है। मिली जानकारी के मुताबिक इस पुल के दोनों ओर कुल 25 किलोमीटर सड़क का निर्माण होना है। जिसमें अगुवानी से पसराहा तक 21 किलोमीटर सड़क का निर्माण किया जाएगा।

इस संबंध में एसपी सिंगला कंस्ट्रक्शन कंपनी के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आलोक झा ने बताया है कि गंगा नदी के बीच में पिलर पर सुपर स्ट्रक्चर का काम तेजी से चल रहा है। हादसे के कारण घटनाएं भी बाधा बन रही हैं। पहुंच मार्ग के निर्माण कार्य पर नजर डालें तो अगुवानी से कर्णा गांव के बीच सड़क पर कालीकरण का काम तेजी से चल रहा है। सड़क की रूपरेखा अब स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है।

भागलपुर पहुंचना होगा काफी सरल

राज्य सरकार के इस प्रोजेक्ट को काफी महत्वाकांक्षी माना जा रहा है. इस परियोजना की लागत का प्रारंभिक अनुमान 1710.77 करोड़ रुपये था। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 23 फरवरी 2014 को परबत्ता के एमडी कॉलेज मैदान में इसका शिलान्यास किया था और 9 मार्च 2015 को मुरारका कॉलेज सुल्तानगंज मैदान से पुल निर्माण कार्य मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुरू कराया था. इस पुल के बन जाने से उत्तर और दक्षिण बिहार के बीच की दूरी काफी कम हो जाएगी। इसके अलावा हर साल श्रावणी मेले में देवघर जाने वाले लाखों कांवड़ियों को इससे लाभ होगा। इस पुल और सड़क के बनने से NH-31 और NH-80 जुड़ जाएंगे।