4 February 2023

जानिए – Lalu Yadav को किडनी देने वाली लाडली रोहिणी आचार्य के बारे में..

जानिए - Lalu Yadav को किडनी देने वाली लाडली रोहिणी आचार्य के बारे में.. 1

डेस्क : आज के बदलते दौर में बेटियों को घर का पराया धन माना जाता है.. यह सच भी है.. अगर सोशल मीडिया की सुर्खियों पर नजर डालें तो आए दिन बेटियों को लेकर भ्रूण हत्या की जा रही है। मतलब कह सकते हैं कि बेटियां समाज के लिए बोझ का उदाहरण हो गया है। ऐसे में कुछ बेटियां ऐसी भी है जो समाज ही नहीं बल्कि बेटी जाति के लिए मिसाल पेश कर रही है।

ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि बीते कुछ दिनों पहले RJD के मुखिया लालू प्रसाद यादव की सुपुत्री अपने पिता को किडनी डोनेट कर समाज में एक कायम पेश कर दी। जो इस वक्त सोशल मीडिया पर बधाई के पात्र बन चुके है। लालू यादव की बेटी रोहिणी को जैसे ही रपता चला कि पिता लालू प्रसाद यादव को किडनी देने के लिए वो डोनर बन सकती हैं, तो रोहिणी ने सोशल मीडिया पर कई पोस्ट किए।

वैसे रोहिणी अचार टि्वटर पर ज्यादा एक्टिव रहती है.. एक पोस्ट करते हुए लिखा कि “माँ- पिता मेरे लिए भगवान हैं..मैं उनके लिए कुछ भी कर सकती हूँ..आप सबों के शुभकामनाओं ने मुझे और मजबूत बनाया है..मैं आप सबके प्रति दिल से आभार प्रकट करती हूँ..आप सब का विशेष प्यार और सम्मान मिल रहा है. मैं भावुक हो गई हूँ. आप सबको दिल से आभार कहना चाहती हूँ।

आपकी बता दे की रोहिणी आचार्य लालू यादव के 9 बच्चों में दूसरी संतान हैं। लालू की सबसे बड़ी बेटी मीसा भारती हैं। रोहिणी के बाद लालू की चार बेटियां हैं। उसके बाद तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव का जन्म हुआ..लालू की सबसे छोटी संतान उनकी बेटी राजलक्ष्मी हैं। यानि बेटे के जन्म से पहले लालू को छह बेटियां हुईं और बेटों से जन्म के बाद एक बेटी..

जानिए रोहिणी आचार्य के बारे में..

लालू की सुपुत्री रोहिणी आचार्य का जन्म एक जून 1979 को पटना में हुआ था। कई बार लोगों के मन में यह सवाल उठता है कि रोहिणी शायद शादी के बाद ‘रोहिणी आचार्य’ बनी हैं। लेकिन ऐसा नहीं हैं। दरअसल, पढ़ाई के दौरान ही उनका नाम रोहिणी आचार्य रखा गया था। स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद रोहिणी ने मेडिकल क्षेत्र को करियर के रूप में चुना था।