बिहार में वज्रपात से 5 लोगों की गयी जान, इन जिलों में भारी बारिश के आसार अलर्ट जारी, जानें मौसम का हाल

न्यूज डेस्क : बिहार में मानसून फिर से करवट ले ली है। पिछले 2 दिनों से लगातार अलग-अलग जिलों में बारिश जारी है। वही रविवार को लगातार बारिश के कारण सूबे के रोहतास और जहानाबाद जिले के अलग-अलग-हिस्सों में वज्रपात से 5 लोगों की मौत हो गई है। पटना मौसम विभाग की माने तो बिहार में दक्षिण-पश्चिम मानसून फिर सक्रिय हो गया है। पिछले कुछ दिनों में पड़ी गर्मी और पश्चिम बंगाल की खाड़ी की नमी युक्त हवाओं के संयोग से बने बादलों की वजह से रविवार को प्रदेश के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश दर्ज की गयी है। हालांकि, बिहार में अभी व्यापक तौर पर कोई भी मॉनसूनी सिस्टम काम नहीं कर रहा है। इसके बाद भी रविवार को अच्छी-खासी बरसात हुई है।

सोमवार को सभी जिलों के लिए अलर्ट जारी : मौसम विज्ञान केंद्र ने सोमवार के लिए राज्य के अधिकांश हिस्सों के लिए येलो अलर्ट जारी कर दिया है। बता दे की पटना, बेगूसराय समेत दक्षिण-मध्य बिहार समेत करीब पूरे प्रदेश में बारिश होने के आसार हैं। इसके साथ ही उत्तर बिहार के अधिकांश जिलों में सोमवार को भी भारी बारिश होने की उम्मीद है। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के संजय कुमार का कहना है कि मानसून प्रदेश में फिर सक्रिय है। इस कारण  झमाझम बारिश हो रही है। वर्तमान में मानसून की ट्रफ लाइन राजस्थान के गंगानगर से लेकर अलीगढ़, कानपुर, डाल्टेनगंज, शांति निकेतन, चेरापूंजी तक गुजर रही है। उसका प्रभाव बिहार में भी देखा जा रहा है। इसके अलावा मध्य असम में चक्रवात की स्थिति बनी हुई है। 21 जुलाई के आसपास बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने की उम्मीद है। इससे काफी लाभ मिल सकता है।

राज्य में अब तक इतनी mm बारिश हुई: आपको बताते चलें कि अब तक सुबे अलग-अलग हिस्सों में 505 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। जो सामान्य से 33% अधिक है। प्रदेश में अब भी सामान्य से अच्छी बारिश हुई है। केवल कुछ ही जिले हैं, जहां अब तक सामान्य से कम बारिश हुई है। इनमें बांका में 13%, पूर्णिया में 34%, सहरसा में 13%, नालंदा में 17% , शेखपुरा में 7% और शिवहर में 3% कम बारिश दर्ज की गयी है।

You cannot copy content of this page