तेजस्वी यादव : वैसे तो मैं एक करोड़ नौकरी का भी वादा कर सकता था, पर मैंने…

tejashwi

डेस्क : बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में लिखा कि वह सारे बिहारी वासियों को फ्री में कोरोना वैक्सीन उपलब्ध करवाएंगे। ऐसे में राजद का भी घोषणा पत्र जारी किया जा चुका है। जिसमें कहा गया है कि वह बिहार के युवकों को 10 लाख नौकरियां देंगे। ऐसे में इस बात पर काफी सवाल उठाए जा रहे थे की नौकरियां कहां से आएंगी नौकरी दिलाने के लिए पैसा कहां से आएगा उन सब का जवाब अब तेजस्वी यादव ने दे दिया है।

तेजस्वी यादव का कहना है कि वैसे तो मैं एक करोड़ नौकरी का भी वादा कर सकता था पर मैंने नहीं करा क्योंकि 10 लाख नौकरियों के वादे को मैं वास्तविकता का रूप देना चाहता हूं और जैसे ही हमारी सरकार बनती है वैसे ही 10 लाख नौकरी के वादे को मंत्रिमंडल में पेश करके पहली बैठक में ही उसे सच बना कर दिखाऊंगा। हमारे राज्य में अनेकों कार्य है, जिन को देखते हुए आसानी से 10 लाख नौकरियां दी जा सकती हैं। लोग आजकल हमारा मजाक उड़ा रहे हैं कि इतनी नौकरियां कहां से देंगे ? पर उनको समझना चाहिए कि कमाई और रोजगार के बीच जमीन आसमान का फर्क होता है।

हम यहां पर सरकारी नौकरियों की बात कर रहे हैं जिस में शामिल है इंजीनियर प्रोफेसर शिक्षक डॉ और मेडिकल तकनीशियन। हम सब जानते हैं कि मणिपुर बिहार के मुकाबले काफी छोटा राज्य है परंतु वहां पर प्रति लाख आबादी पर पुलिस ज्यादा है अगर हम प्रति लाख आबादी बिहार की देखे तो आप हमारे 10लाख नौकरी देने पर सवाल नहीं उठा पाएंगे। मैं 19 लाख नौकरी पर सवाल पूछ रहा हूं कि आखिर नीतीश कुमार ने 10 लाख नौकरियों पर ही हाथ क्यों खड़े कर दिए आखिर बीजेपी कहां से देगी इतनी नौकरियां यह सिर्फ बेवकूफ बनाने का काम कर रहे हैं।

You cannot copy content of this page