बिहार में बाईपास और फ्लाईओवरों के लिए आई नई गाइडलाइन – फरवरी तक तैयार हो जाएंगे डीपीआर

bihar bypass 2022

bihar bypass 2022

डेस्क : बिहार में पथ निर्माण कार्य शुरू होने जा रहा है ऐसे में बिहार में जल्द ही नए बाईपास और फ्लाईओवर बनने वाले हैं। इन नए बाईपास, रोड, फ्लाईओवर को लेकर पथ निर्माण विभाग ने गाइडलाइन जारी की है। ऐसे में सभी जगह को चिन्हित कर दिया गया है जहां पर नए एलिवेटेड रोड और बाईपास बने हैं अगर जरूरत पड़ी तो इसके लिए निर्माण निगम डीपीआर की मदद ली जाएगी और 28 फरवरी तक सभी डीपीआर विभाग से जानकारी एकत्रित करके भेजने को कहा गया है।

ज्यादा से ज्यादा समय 2024 वर्ष का दिया गया है जिसके तहत यह सभी निर्माण कार्य तैयार कर लेने हैं। पथ निर्माण विभाग ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आगे पूरी पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन दी है। जिसके तहत सभी अधिकारियों को एवं नेताओं को यह समझाया गया है कि किस तरीके से आने वाले 3 सालों में काम को पूरा किया जाएगा। राज्य में इस वक्त कई जगह चिन्हित की गई है जिनकी वजह से लंबा जाम लगता है और लोगों को परेशानी होती है ऐसे में निजात दिलाने के लिए 120 बाईपास का निर्माण किया जाएगा और विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा के द्वारा विशेष जानकारी भी दी गई है। यहां पर कई रोड बाईपास और पुल बनने हैं। इनका निरीक्षण अभियंता द्वारा किया जाएगा।

इस कार्य से जुड़े जितना हो सके उतना पैसे को बचाने की कोशिश की जाएगी और सभी प्रक्रियाओं को बिल्कुल सुलभ रखा जाएगा। हर स्तर के अभियंता मौजूद रहेंगे एवं समय-समय पर सुनिश्चित भी करेंगे कि कार्य करने की गति किस प्रकार चल रही है। दूसरे चरण में डीपीआर की मंजूरी अगले वर्ष दी जाएगी क्योंकि अधिकारियों का कहना है कि यह कार्य बहुत बड़े स्तर का है और साल भर के भीतर पूरा कर पाना असंभव है ऐसे में प्रशासनिक स्वीकृति अनिवार्य रहेगी जिसके तहत अगले वित्तीय वर्ष में भी कार्य जारी रखा जाएगा। बाईपास की चौड़ाई कम से कम 7 मीटर रखी जाएगी। जो सड़क में प्रस्तावित की गई है उनमें जमीन अधिग्रहण भी होगा जिसकी मापदंड 30 मीटर रखा गया है और पूर्व बनी सड़कों में 14 मीटर जमीन का मापदंड तय किया गया है।

You cannot copy content of this page