राज्य में नई टेक्सटाईल नीति बनने से बेगूसराय में पेट्रो-केमिकल्स एवं टेक्सटाईल ईकाइयों की होगी स्थापना – शहनवाज हुसैन

Shahnawaz Hussain

न्यूज डेस्क : जिले के कारगिल विजय सभा भवन में आज शुक्रवार को उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने जिले में उद्योग विभाग द्वारा क्रियान्वित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने जिला उद्योग केंद्र के माध्यम से क्रियान्वित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा के क्रम में कहा कि बेगूसराय जिला में औद्योगिक विकास की काफी संभावनाएं हैं। तथा इसके लिए विभाग द्वारा भावी योजनाओं पर कार्य भी किए जा रहे हैं। उन्होंने पेट्रो-कैमिकल्स के क्षेत्र में संभावित निवेश के साथ-साथ राज्य में नई टेक्सटाईल नीति बनने के उपरांत जिले में क्रमशः पेट्रो-केमिकल्स एवं टेक्सटाईल ईकाइयों की संभावनाओं के संबंध में भी जानकारी दी।

इसी क्रम में उन्होंने जिले में औद्योगिकीकरण के प्रसार की संभावनाओं के मद्देनजर बियाडा के विस्तार के लिए आवश्यक भूमि हेतु बियाडा के पदाधिकारी को जिला प्रशासन के सभी संबंधित पदाधिकारियों, अंचलाधिकारियों आदि के साथ समन्वय स्थापित करने का निर्देश दिया। बता दे की मंत्री ने विभिन्न योजनाओं जैसे- प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री उद्यमी योजना, जिला औद्योगिक नवप्रवर्तन योजना के साथ-साथ बिहार राज्य औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नीति के अंतर्गत जिले में कार्यरत एवं अनुदान प्राप्त ईकाइयों, अंडी रेशम फार्म, योजनाओं में तेजी से प्रगति लाने की निर्देश दिया। मंत्री ने विभिन्न उद्यमी योजनाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार पर बल देने हेतु जिला पदाधिकारी को विशेष पहल करने के साथ-साथ महाप्रबंधक, जिला उद्योग केंद्र को केंद्र पर आने वाले आगंतुकों को भी इन योजनाओं के संबंध में जानकारी प्रदान करने हेतु हेल्पडेस्क की स्थापना करने का निर्देश दिया।

उन्होंने बैंक प्रतिनिधियों को भी उद्यमी योजनाओं से संबंधित आवेदनों के संबंध में ससमय कार्रवाई करने का निर्देश दिया। वही जिला उद्योग केंद्र ने मंत्री के समक्ष विभिन्न योजनाओं की अद्यतन स्थिति के संबंध में जानकारी देने के क्रम में बताया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत वित्तीय वर्ष 2020-21 के दौरान निर्धारित भौतिक लक्ष्य 88 के विरुद्ध कुल 501 आवेदन प्राप्त हुए। जिसमें से 68 आवेदन को स्वीकृति दी गई है। इसी प्रकार वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान निर्धारित भौतिक लक्ष्य 88 के विरुद्ध अब तक 15 आवेदनों को स्वीकृति प्रदान की गई है। मुख्यमंत्री उद्यमी योजना अंतर्गत अब तक कुल 32 लाभुकों द्वारा ईकाई चालू किया गया है। इस योजना के तहत 77 स्वीकृत आवेदकों में से 76 को प्रथम किस्त 52 स्वीकृत आवेदकों में से 50 को द्वितीय किस्त तथा 36 स्वीकृत आवेदकों में से 32 को तृतीय किस्त प्रदान किया गया है। उन्होंने बताया कि जिले में वर्तमान में 07 औद्योगिक कलस्टर्स कार्यरत है। जिसके माध्यम से 88 लोगों को रोजगार प्रदान किया गया है।

You cannot copy content of this page