बेगूसराय में आयोजित किसान सभा में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले , एमएसपी और बाजार समिति नहीं हटेगा तो नहीं हटेगा

Nawkhoti

नावकोठी (बेगूसराय) : जिले के नावकोठी प्रखण्ड क्षेत्र के समसा मध्यविद्यालय के प्रांगण में भारतीय जनता पार्टी के द्वारा किसान सभा का आयोजन किया गया। इस सभा के मुख्य अतिथि के रूप में बेगूसराय के सांसद व केन्द्रीय मंत्री आदरणीय गिरिराज सिंह थे। इस सभा में केंद्रीय मंत्री के साथ जिला अध्यक्ष राजकिशोर सिंह भी शामिल हुए।इस अवसर पर किसान के बारे में प्रखण्ड अध्यक्ष ने कहा कि केन्द्र सरकार का यह कानून किसान के हित में है।समसा के मुखिया सनोज सहनी ने मंत्री गिरीराज सिंह से मोइन से पानी निकासी की मांग की।

प्रदेश महादलित प्रकोष्ट के प्रदेश अध्यक्ष सुनील राम ने कहा कि आजाद हिन्दुस्तान में अभी तक कोई दलित का बेटा ,चायबाला कभी प्रधानमंत्री नहीं बना।और नरेन्द्र मोदी जी प्रधान मंत्री बन गए ये कुछ नेताओं को पच नहीं रहा है। इसलिए समय समय पर इसी तरह का गलत आदोंलन के द्वारा देश को बदनाम करने का काम करते रहते हैं। भाजपा के जिलाध्यक्ष राजकिशोर सिंह ने कहा कि भारत के प्रधान मंत्री किसानों के मित्र है । वो किसानों को विष्णु कहते हैं और जो किसानों को विष्णु का दर्जा दे क्या वह किसान विरोधी हो सकते है, क्या वह किसान विरोधी कार्य कर सकते है ।

माल महाराज का और मिर्जा खेले होली ऐसा नहीं होगा।माल किसान का,अनाज किसान का और पैदा कोई और ले यह अब नहीं होगा। इसी सभी कठिनाइयों से बचाने के लिए नरेन्द्र मोदी की सरकार किसान बिल लाया है।उन्होंने कहा कि एमएसपी खत्म नहीं होगा।यह बिल किसानों को बिचौलिया से बचाने का कार्य करेगा। इस अवसर पर एक छोटा सा बच्चा सिवेस कुमार ने बोलते हुए कहा कि नरेन्द्र मोदी का बिरोध करना भी विरोधी को नदीं आता।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि मित्रों आप सभी ने मुझे जिताकर नरेन्द्र मोदी जी की सरकार बनाने का कार्य किया।चना के दाम ,गेहूँ के दाम,धान के दाम को यदि कोई बढ़ाने का कार्य किया तो वो नरेन्द्र मोदी की सरकार ने किया। यूपीए के समय में और मोदी के समय में कितना खरीद होता है किसानों से ये देखने की चीज है।उज्वला योजना के बारे में बताया कि गरीब महिलाए चुल्हा फुकते फुकते पड़ेशान हो जाती थी ,उसे मोदी की सरकार ने दूर किया।एमएसपी और बाजार समिति नहीं हटेगा तो नहीं हटेगा। किसान बिल के समर्थन में हस्ताक्षर अभियान शुरू हो ,किसानों को यह अधिकार मिले कि वह अपना अनाज जहाँ मन हो बेच सके ।गिरिराज सिंह ने कहा कि मैं जब तक जिन्दा रहूँगा तब तक आपके हक और हकूक के लिए लड़ता रहूँगा।

You cannot copy content of this page