जम्मू-कश्मीर में इस घोड़े को किया गया क्वारंटाइन

डेस्क : हाल ही में केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में एक घोड़े को करोना पॉजिटिव पाया गया है। आपको बता दें यह घोड़ा अपने मालिक के साथ कश्मीर घाटी वापस आया हुआ था। परंतु अब इस घोड़े को कोरेंटिन कर दिया गया है साथ ही घोड़े के मालिक को भी एडमिनिस्ट्रेटिव कोरेन्टीन पर भेज दिया गया है यह पहली बार हो रहा है कि किसी घोड़े को करोना पॉजिटिव पाया गया है।

यह मामला मंगलवार का है जब कश्मीर के शोपियां जिले में मजदूरी करने वाले एक मजदूर अपने घोड़े के साथ मुगल रोड के रास्ते से होते हुए जम्मू के राजौरी जिले किठाना मंडी में स्थित अपने घर की ओर रुख कर रहा था। परंतु घर पहुंचने से पहले ही प्रशासन ने उसके घोड़े को जप्त कर लिया और उसके टेस्टिंग करी गई जिसमें घोड़ा कोरोना पॉजिटिव पाया गया।

इसके बाद रजौरी के एडिशनल डिस्ट्रिक्ट कमिश्नर शेर सिंह के अनुसार प्रोटोकॉल्स को फॉलो करते हुए उन्होंने यह फैसला लिया कि जो भी मुगल रोड के द्वारा राजौरी जिले में पहुंचेगा उसको 14 दिन का कोरेन्टीन कर दिया जाएगा। आपको बता दें कि अब जिस शख्स के सैंपल लिए गए हैं उसको जांच के लिए भेज दिया गया है एवं इस शख्स के साथ जो घोड़ा था उसको लेकर पहले तो प्रशासन ने डॉक्टरों से सलाह ली जिसके बाद इस घोड़े का मेडिकल टेस्ट करवाया गया अब यह देखा जा रहा है कि घोड़े की वजह से कोरोना वायरस फैलता है या नहीं। इस पर डॉक्टरों की अलग-अलग राय भी आ रही है जिसके बाद प्रशासन ने घोड़े और घोड़े के मालिक को आइसोलेशन में रख दिया है और कहा गया है कि घोड़े के आसपास कोई भी ना जाए।

राजोरी प्रशासन का दावा है कि इस मामले में घोड़े को लेकर काफी सतर्कता बरती जाए, नहीं तो कहीं ऐसा ना हो कि घोड़े की वजह से इलाके में कोरोना वायरस फैले आपको बता दें कि वह शक्स घोड़े पर बैठकर ही आया था। परंतु उस शख्स यानी कि मालिक के सैंपल के नतीजे अभी तक नहीं आए हैं। पुलिस के अनुसार जानवर से करोना फैलने से ज्यादा जरूरी है यह है कि अगर इस घोड़े के मालिक को करोना संक्रमित पाया गया तो ऐसे में घोड़े की लगाम पर कोरोना वायरस हो सकता है जिसकी वजह से रिपोर्ट का इंतजार करा जा रहा है।