36 घण्टे से गुल थी बिजली, ठीक करने आये मिस्त्री ने मांगा रुपया, तो ग्रामीणों किया हंगामा

चेरिया बरियारपुर : जिले के चेरियाबरियारपुर थाना क्षेत्र के गोपालपुर गाँव कस समीप ग्रामीणों ने SH 55 को उस वक्त जाम कर दिया, जब बिजली बहाल करने को लेकर बिजली मिस्त्री द्वारा कथित तौर पर 500 रूपये की मांग की गई । जिसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने सोमवार को बिजली विभाग के लचर एवं भ्रष्ट व्यवस्था के विरोध में स्टेट हाईवे-55 को जाम कर जमकर हंगामा किया। साथ ही बिजली विभाग के अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जाम की सूचना मिलते ही चेरिया बरियारपुर थानाध्यक्ष पल्लव कुमार के नेतृत्व मे पुलिस बल जामस्थल पर पहुंच आक्रोशित ग्रामीणों को समझा बुझाकर जाम हटाने के प्रयास में जूट गए।

36 घण्टे से बिजली सेवा थी ठप बताया जाता है गोपालपुर पंचायत के वार्ड नंबर-05 एवं 07 मे पिछले 36 घंटे से बिजली सेवा बाधित रहने के कारण लोगों को भारी फजीहतों का सामना करना पड़ रहा था। तभी विभाग के मिस्त्री बिजली सेवा बहाल करने के लिए प्रत्येक कन्ज्यूमर 05 सौ रूपए की डिमांड करने लगे।जिसके फलस्वरूप बिजली गूल होने की परेशानी झेल रहे ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। तथा आक्रोशितों के द्वारा सडक़ जामकर विभाग के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी गई।

दूसरी तरफ सूचना मिलते ही बिजली विभाग के एसडीओ अजीत कुमार के द्वारा त्वरित कार्रवाई के आश्वासन के बाद आक्रोशित लोगों का गुस्सा शांत हुआ। साथ ही एसडीओ के निर्देश पर विभाग के पांच मिस्त्री स्थल पर पहुंचकर बिजली सेवा बहाल कराने में जूट गए। इस बीच लगभग एक घंटे तक सडक़ पर आवागमन बाधित रही। फलतः सडक़ के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई।

जबकि सडक़ जाम के कारण राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं एसडीओ के द्वारा भेजे गए मिस्त्री के द्वारा बिजली व्यवस्था बहाल कराने हेतु कार्य पर जूटने के उपरांत आक्रोशित लोगों ने सडक़ जाम हटाकर यातायात व्यवस्था को बहाल कराया।