मौसम बदला पहले दिन की झमाझम बारिश से जलजमाव, बाजार में लगे पानी को निकालने की कोशिश में दुकानदार

Water Logging

न्यूज डेस्क : आसमान में लगे बादल और गरज के साथ इस बार की पहले दिन की झमाझम बारिश ने कई इलाके में जलजमाव की समस्या उत्पन्न कर दिया है,जबकि अभी पुरा बर्षात शेष बचा हुआ है।झमाझम गरज के साथ हुयी बारिश के कारण बेगूसराय के छौड़़ाही बाजार में गत वर्ष सड़क पर जलजमाव से बचाने के लिये पथ निर्माण विभाग द्वारा उँची सड़क की ढ़लाई किये जाने के बाद बगल के दुकानों में जलजमाव हो गया।सड़क के किनारे नाला नहीं लिहाजा नीचे हो गये दुकानों में पानी घुसने लगा।

दौलतपुर मालीपुर मुख्य पथ में भी जलजमाव होने के साथ साथ क्षेत्र के बड़ी जाना,सांवत,रामपुरकचहरी, मटिहानी,पताही,ऐजनी,एकम्बा,सहुरी बड़ैपुड़ा,सिंहमा, अमारी,शाहपुर सहित दर्जन भर टोले मुहल्ले में जलजमाव की स्थिति बन जाती है।अभी वर्षात की पुरे मौसम बचा हुआ है।हलांकि ऐजनी में सड़क मरम्मती का भी कार्य शुरू किया गया है,लेकिन बताया जाता है कि सड़क के साथ नाले का निर्माण नहीं होने की वजह से लोग अपने अपने दरवाजे को सड़क से उँचा मिट्टी भरकर कर लेते हैं।लिहाजा बारिश का पानी सड़क पर ही रह जाता है।ऐसी परिस्थिति में जलनिकासी के लिये जब तक सड़क के साथ नाले का निर्माण नहीं होगा तबतक सड़क पर जलजमाव की समस्या से निजात पाना संभव नहीं है।

जलजमाव के कारण असमय नयी बनायी सड़कें भी टुटने का बड़ा कारण मानख जाता है.प्रखंड लोजपा अध्यक्ष सह पूर्व मुखिया अबोध कुमार साह उर्फ सुबोध साह,सीपीआई अंचल मंत्री गुणेश्वर सहनी,जिलापार्षद प्रेमलता कुमारी,पूर्व मुखिया जमशेद आलम,सहुरी मुखिया रामसेवक पासवान,हेडक्वार्टर सांवत पंचायत की मुखिया रिंकु कुमारी,युवा सामाजिक कार्यकर्ता दानिश आलम,पंकज दास,राजीव रंजन राय,प्रणव कुमार समेत दर्जनों जनप्रतिनिधियों ने सरकार एवं जिलाप्रशासन से सड़क निर्माण की डीपीआर तैयार होने के समय ही नाला निर्माण के साथ स्वीकृति प्रदान करने की माँग की है,ताकि सड़क निर्माण के साथ नाले का प्रावधान होने के बाद सड़कें भी सुरक्षित रहेगी और जलजमाव की समस्या से भी निजात मिल सकेगा।

You cannot copy content of this page