बिहार के इस जिले के ग्रामीण खुद को हुए “लॉकडाउन”, लोगो को लेनी चाहिए सीख

LOCKDOWN RETURNS

डेस्क : बिहार में शहर और गाँव सभी जगह कोरोना तेजी से अपना पांव पसार रहा है। हर दिन प्रदेश के लोग कोरोना से मृत्यु को प्राप्त कर रहा है। इसी बीच बढ़ते कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर गया जिले के लोगों ने एक सराहनीय कदम उठाया है। लोगों ने दो दिन के लिए लॉकडाउन का एलान कर दिया है। इसको लेकर छोटी-बड़ी सारी दुकानें पूर्ण रूप से बंद हैं। लोग अपने-अपने घरों में बंद हैं।

बिहार के गया जिले के परैया गाँव में लगा लॉक डाउन: दरअसल, गया जिले के परैया प्रखंड अंतर्गत विभिन्न दुकानदार और ग्रामीणों ने इलाके में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अपने क्षेत्रों में पुरे दो दिन का लॉकडाउन लगाया है। ग्रामीणों ने बताया अगर दो दिनों के बाद भी कोरोना मरीजों की संख्या कम नहीं होगी तो इसकी अवधि को वे आगे भी बढ़ा सकते हैं।

लोगों के अपील से लगा लॉक डाउन, प्रशासन का नहीं है ऐसा कोई आदेश: यह बंदी ग्रामीणों ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते देख कर अपने स्वेक्षा से प्रखंड के ग्रामीण और व्यवसाय के लोगों ने किया है। ग्रामीणों  ने बताया की पिछले एक सप्ताह से परैया प्रखंड में कोरोना का 160 मामला आ चूका है और 6 लोगो की मृत्यु भी हो चुकी है। तब हमलोग और व्यवसाय लोगो ने मिलकर इस कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए दो दिनों का स्वेक्षा से लॉक डाउन का घोषणा किया है। स्थानीय थाना परैया के थाना प्रभारी फहीम खान ने मीडिया को बताया कि परैया थाना क्षेत्र में कोरोना का संक्रमण बहुत ज्यादा बढ़ा हुआ है। कई लोगों की इससे मृत्यु भी हो चुकी है। बाजार के लोगों ने यह निर्णय लिया है कि दो दिनों के लिए बाजार बंद कर दिया है। कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ा जाये तो सभी लोगों की इच्छा से दो दिनों का लॉक डाउन किया है। यह कदम बहुत ही अच्छा है कि यह लोग अपना सुरक्षा खुद कर रहे हैं। पुलिस के लोग भी निगरानी कर रहे हैं।

You may have missed

You cannot copy content of this page