अनुमंडल बने 30 साल बाद भी मंझौल में विकास नगण्य- संजय सिंह

मंझौल : जिले के मंझौल अनुमंडल मुख्यालय में एक फिर राजनीति गर्म होती दिख रही है। मुद्दा मंझौल के विकास को बनाया गया है। जिसको लेकर मांग तेज हो गयी है। सत्ताधारी दल के बेगूसराय जिला के  युवा जदयू उपाध्यक्ष संजय सिंह ने कहा कि  जिले में अन्य अनुमंडल जो मंझौल के बाद बने हैं। वहां पर नगर निकाय की दर्जा प्रदान कर विकास को लेकर सभी सुविधाये उपलब्ध करवाया गया है। लेकिन मंझौल का अभी तक समुचित विकास नहीं हो पाया है। अनुमंडल बने 30 साल बीत चुके हैं, वाबजूद इसके मंझौल में विकास कम  विनाश  ज्यादा  हुए  है। 

नगर निकाय  का दर्जा मिलने से ही मंझौल और  क्षेत्रवासियों का समुचित विकास हो सकेगा।  उन्होंने कहा कि हम मंझौल चारों पंचायत सहित पबरा,पहसारा,मेहदाशाहपुर पंचायत  की जनता से सम्पर्क बना रहे हैं, जरूरत पड़ी तो आनेवाले समय में मंझौल के विकास को लेकर सड़क से सदन तक आवाज पहुंचाया जायेगा, जिससे क्षेत्र के आम आवाम की बात को बिहार सरकार तक पहुंचाया जा सके  ।