बेगूसराय में बदमाशों का मनोबल सातवें आसमान पर, ग्रामीण चिकित्सक को टैक्स न देने पर जान लेने की दी धमकी

छौड़ाही (बेगूसराय) : अपना गृह निर्माण करवा रहे छौड़ाही ओपी क्षेत्र के बखड्डा गांव निवासी एक ग्रामीण चिकित्सक से बदमाशों ने एक लाख रुपये रंगदारी देने अन्यथा सपरिवार गोली से उड़ा देने की धमकी दी है। बदमाशों ने तांडव मचाते हुए फायरिंग की मजदूरों को पीटा एवं 15 हजार रुपये भी लूट लिए। पुर्व में भी बदमाशों द्वारा घर पर चढ़ फाइरिंग करने के बाद धमकी से डरे ग्रामीण चिकित्सक ने छौड़ाही ओपी में मामला दर्ज करा जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाई है।

इस संदर्भ में छौड़ाही ओपी क्षेत्र के बाद बखड्डा निवासी डॉ रंजीत कुमार का कहना है कि वह अपने गांव में अपने जमीन पर बने बाउंड्री वॉल के अंदर गृह निर्माण कार्य करवा रहे हैं। अपराधी लखींद्र राय एवं उनके सहयोगी हाथ में पिस्तौल लिए सोमवार की शाम अचानक धमक परे और एक लाख रुपये रंगदारी अब तक नहीं देने की बात कहते हुए मकान निर्माण बंद करने को कहा। विरोध करने पर अपराधियों ने डॉक्टर, मिस्त्री एवं मजदूर को पिस्तौल के बट से ताबड़तोड़ प्रहार कर घायल कर दिया। वहीं जेब में रखे 15 हजार रुपये भी अपराधियों ने लूट लिए। अपराधी को मारपीट एवं फायरिंग करते देख डॉक्टर मजदूर खेत में छुप गए अपनी जान बचाई एवं घटना की सूचना पुलिस को दी।

अपराधी लोगों को जूते देख अपराधी रंगदारी का रुपये अविलंब जमा देने अन्यथा सपरिवार गोली से उड़ा देने की धमकी दी। अपराधियों ने मजदूर मिस्त्री यों को भी यहां काम करने पर गोली मार देने की धमकी देता हुआ चला गया। डॉक्टर रंजीत का कहना है कि वह ततमा अनुसूचित जाति के हैं। दबंग अपराधी से समूचा गांव डरता है। रंगदारी की मांग उनके द्वारा पूरी नहीं किए जाने पर पूर्व में इसी अपराधी ने घर पर चढ़कर गोलीबारी की थी एवं घर में आग लगाकर लाखों रुपए का संपत्ति जला डाला था। कार्रवाई नहीं होने से अपराधी बढ़े मनोबल के साथ अब जान लेने पर आमादा हो गए हैं। ग्रामीण चिकित्सक ने छौड़ाही पुलिस से जानमाल की सुरक्षा करने की गुहार लगाई है। इस संदर्भ में छौड़ाही ओपी अध्यक्ष ओमप्रकाश का कहना है कि ग्रामीण चिकित्सक डॉक्टर रंजीत कुमार द्वारा घटना के संबंध में आवेदन दिया गया है। मामले की जांच एवं कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है।