बेगूसराय : पत्नी को रखने के लिए पति नहीं हुआ तैयार, बीच बचाव करने गए अगुआ को पीटकर किया घायल

Husband Wife

छौड़ाही (बेगूसराय) : पत्नी एवं बच्चों को अपने घर पति रखने को तैयार नहीं हुआ, तो बीच बचाव करने शादी कराने वाले अगुआ पहुंच गए। अगुआ को देख ससुराल वाले इतने नाराज हुए कि उन्हें पीट-पीटकर लहूलुहान कर दिया। गंभीर स्थिति में अगुआ का इलाज बेगूसराय स्थित निजी अस्पताल में चल रहा है। घटना छौड़ाही ओपी क्षेत्र के इब्राहिमपुर गांव की है।

घटना के संदर्भ में इब्राहिमपुर गांव निवासी स्वतंत्र सिंह उर्फ खुरखुर पिता स्वर्गीय राम अनुज सिंह ने छौड़ाही ओपी में प्राथमिकी दी है। घायल स्वतंत्र सिंह का कहना है कि उनकी ममेरी बहन लक्ष्मी देवी पिता स्वर्गीय जय प्रकाश सिंह ग्राम चेरिया बरियारपुर निवासी का लगभग 15 साल पहले उनके गांव इब्राहिमपुर निवासी राम जीवन सिंह ग्राम इब्राहिमपुर के साथ हुआ था। दो बच्चे भी हैं। छह साल से राम रतन सिह बहुत को अपने घर नहीं लाते है।

बहु अगर अपने मन से आती है तो मारपीट गाली-गलौज कर भाग दिया देते हैं। घायल स्वतंत्र सिंह का कहना है कि लक्ष्मी देवी उनकी ममेरी बहन भी है। सहमति के अनुसार ही अपने गांव के लड़के से विवाह कराए थे। बहु को घर लाने हेतु पंचायत स्तर समझौता करवाया गया। जिसका कोई असर नहीं हुआ। गुरुवार को स्वतंत्र सिंह बिदागरी के लिए राम रतन सिंह से कहने गए तो कहा सुनी उपरांत मंटु सिह तलवार से सर पर वार कर लहुलुहान कर दिया।

पिस्तौल लेकर भी मारने का प्रयास कर रहा था। वहीं दिलीप सिंह उनके गले से सोने का हनुमानी छिन लिया। इसके बाद बीच बचाव कर ग्रामीणों ने लहुलुहान हो बेहोश पड़े अगुआ स्वतंत्र सिंह को उठाकर पीएचसी छौड़ाही स्वास्थ्य केंद्र में तत्काल इलाज के लिए भर्ती कराया। जहां स्थिति गंभीर देख सदर अस्पताल बेगूसराय के लिए रेफर कर दिया गया। इस संदर्भ में छौराही पुलिस का कहना है कि सूचना मिली है।कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें   बेगूसराय के बेटे ने किया कमाल - ICAR परीक्षा में हासिल किए पूरे 99.96% अंक..