हाईकोर्ट ने शहाबुद्दीन के शव बिहार में नहीं बल्कि तिहाड़ जेल मे ही दफनाने का आदेश दिया

Sahabuddin

डेस्क : बिहार के बाहुबली नेता और RJD के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन का शनिवार को कोरोना संक्रमित होने की वजह से निधन हो गया था। आपको बता दें कि शहाबुद्दीन तिहाड़ जेल में ही उम्र कैद की सजा काट रहे थे। इसी बीच उनका निधन हो जाने के बाद उनकी पत्नी ने हाइ कोर्ट में केस फाइल किया था और शहाबुद्दीन का शव बिहार ले जाने की मांग की थी। मगर, हाई कोर्ट ने सुनवाई के दौरान परिवार को इसकी इजाजत नहीं दी। हाई कोर्ट ने शहाबुद्दीन के शव को कोविड प्रोटोकॉल के तहत दिल्ली में ही दफन करने का आदेश जेल प्रशासन को दिया है। बताया जा रहा है कि शहाबुद्दीन के शव का पोस्टमॉर्टम सोमवार को किया गया, उसके बाद उनके शव को मंगोलपुरी के कब्रिस्तान में दफनाया जाएगा

20 अप्रैल को दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल किए गए थे भर्ती: तिहाड़ की जेल संख्या दो में बंद शहाबुद्दीन का पहले जेल परिसर स्थित अस्पताल में इलाज किया गया। लेकिन, हालत में सुधार होता नहीं देख उन्हें हरि नगर स्थित दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में 20 अप्रैल को भर्ती कराया गया था। यहां गहन चिकित्सा इकाई में लगातार उसका उपचार चल रहा था। उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। इसी बीच शहाबुद्दीन की तबीयत खराब होने के बाद डॉक्टरों ने उनका कोरोना टेस्‍ट किया। टेस्ट होने के बाद 21 अप्रैल को उनकी रिपोर्ट में कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि कि गई थी। इसके बाद उनका इलाज दिल्‍ली के एक अस्‍पताल में कराया जा रहा था।

You cannot copy content of this page