बेगूसराय के शादी में सोशल डिस्टेंसिंग, दूल्हा-दुल्हन ने डंडे के सहारे पहनाई वरमाला

Shadi

डेस्क : देश में इन दिनों कोरोना महामारी से पूरी तरह से अस्त व्यस्त हैं। कभी-कभी ऐसा लग रहा है कि मानो कोरोना मानव सभ्यता को बर्बाद करने पर तुल गया। लेकिन, फिर भी थमने का नाम नही ले रहा है। इस महामारी को लेकर सरकार भी तरह-तरह के गाइडलाइंस पेश कर रहे‌ है। ताकि महामारी पर काबू पा सके। लेकिन, इस व्यापक महामारी में भी शादी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। और शादी के नाम पर सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ाई जा रही है।लेकिन, इसी बीच बिहार के बेगूसराय जिले मे एक ऐसे अनोखी शादी देखने को मिला जो वाकई में काबिले तारीफ है। इस शादी में सरकार के नियमों के साथ साथ घर वालों ने शहनाई को भी गायब कर दिया है। बल्कि दूल्हा-दुल्हन को भी वरमाला के दौरान सोशल डिस्टेंस का पालन कराने को मजबूर कर दिया है। जहां एक ओर महामारी से पहले शादी के विधि-विधान में पूरी रात लगती थी, लेकिन अब पंडित भी मंत्रों को बायपास करते हुए महज दो-तीन घंटे में सभी रस्में पूरी कर रहे हैं।

छड़ी के सहारे वर वधु को जयमाला पहनाया: दरअसल, जिले के एक शादी का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से बदल होता दिख रहा है। जिसमें सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए वर और बधु ने एक छड़ी के सहारे जयमाला पहनाया। कोरोना के चलते यह सिस्टम सिर्फ बड़े शहर ही नहीं बल्कि छोटे गांव तक पहुंच गया है। लोग वीडियो देखकर वायरल भी कर रहे हैं। क्योंकि, लोगों को इस कोरोना काल में एक नई चीज सीखने को मिल रहा है। यह अनोखी शादी बीते शुक्रवार की रात जिले के तेघड़ा में व्यवसायी मारवाड़ी समाज से आने वाले गिरधारी सुल्तानियां के पुत्र कीर्तिकेश सुल्तानियां की शादी है।

और शादी का कार्यक्रम तेघड़ा बाजार स्थित शान्ति भवन धर्मशाला में आयोजित किया गया था। लेकिन, सरकार द्वारा कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ रात दस बजे से पूर्व ही सभी रीति रिवाज हिंदू धर्म के मुताबिक किए गए। शादी समारोह में 50 लोगों से भी कम की भीड़ लगी। वर-वधु ने छड़ी के सहारे एक दूसरे को जय माला पहनाई तथा लोगों ने दूर से ही आशीर्वाद प्रदान किया। बारात में शामिल लोग अनोखी वरमाला की रस्म देखने के बाद काफी खुश नजर आ रहे थे। इसका जब वीडियो वायरल हुआ तो लोग काफी चर्चा कर रहे हैं कि कोरोना ने आखिर क्या से क्या कर दिया।

You may have missed

You cannot copy content of this page