बेगूसराय में फर्जी डिग्री के सहारे शिक्षक बनने वालों छह शिक्षकों पर गिरी गाज

बेगूसराय : प्रखंड के विभिन्न विद्यालयों में फर्जी तरीके से नियोजित हुए छह शिक्षक-शिक्षिकाओं के खिलाफ निगरानी विभाग के इंस्पेक्टर ने गुरुवार को गढ़पुरा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिन शिक्षकों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है उनमें मध्य विद्यालय गढ़पुरा शिक्षिका शोभा कुमारी, मध्य विद्यालय रजौड़ के ब्रज नंदन पासवान, मध्य विद्यालय मोरतर की शिक्षिका सच्ची कुमारी, प्राथमिक विद्यालय मालीपुर मुसहरी की शिक्षिका चंदा कुमारी, उत्क्रमित मध्य विद्यालय देवड़ा की रेणु कुमारी एवं उत्क्रमित मध्य विद्यालय भूईधारा के शिक्षक राकेश कुमार शामिल हैं। वहीं इसे लेकर जिले भर के शिक्षकों में हड़कंप मच गया। इसे लेकर दिन भर चर्चा होती रही।

जिले के नियोजित शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की जांच कर रहे निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के सुरेंद्र कुमार मौआर ने उपरोक्त शिक्षक-शिक्षिकाओं पर भादवि की धारा 420, 467, 468, 471 एवं 120 (बी) के तहत प्राथमिकी दर्ज कराई है। एफआइआर के लिए थाना को दिए गए आवेदन में बताया गया है कि शोभा कुमारी पिता हरि सिंह, पति रामानुज सिंह ग्राम पोस्ट हांसपुर, थाना नयागांव, बेगूसराय का सही पिता का नाम रामाकांत प्रसाद सिंह पाया गया है। इनके मैट्रिक प्रमाण पत्र में भी अंतर पाया गया है।

वहीं ब्रज नंदन पासवान पिता तीलो पासवान ग्राम पबड़ा प्रखंड चेरिया बरियारपुर के इंटर के प्राप्तांक की श्रेणी में अंतर पाया गया है। जिसमें प्राप्तांक 315 को बढ़ाकर नियोजन किया गया है। जबकि सच्ची कुमारी पिता दिवाकर मिश्र पति सत्येंद्र कुमार मालीपुर, गढ़पुरा के बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के जांच में इंटर में प्राप्तांक शून्य श्रेणी पाया गया है। जबकि चंदा कुमारी पिता श्यामसुंदर मिश्र पति विनोद पाठक मालीपुर, गढ़पुरा के बिहार विद्यालय परीक्षा समिति उच्च माध्यमिक पटना की जांच में प्राप्तांक 455 पाया गया है, जो इनके प्राप्तांक में अंतर है। वहीं रेणू कुमारी पिता रामनारायण यादव ग्राम सकड़ा, गढ़पुरा के रोल कोड में अंतर पाया गया है।

जबकि राकेश कुमार पिता राम जपो यादव के बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की जांच में नाम विभु सत्यम, पिता बैजनाथ प्रसाद इंटर के प्राप्तांक में 498 द्वितीय श्रेणी है। इस प्रकार इंटर में इनके नाम और पिता का नाम एवं प्राप्तांक में अंतर पाया गया है। इस संबंध में प्रभारी थानाध्यक्ष पुअनि चंद्र प्रकाश महतो ने बताया है कि प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधान की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

इनपुट : दैनिक जागरण