धर्म, संस्कृति, पर्यटन और रोजगार का बड़ा केंद्र बनेगा सिमरिया घाट : विकास के लिए पटना में होगी बैठक

Simaria Ghat Begusarai

न्यूज डेस्क : बेगूसराय के सिमरिया गंगा घाट की जल्द ही सूरत और सीरत बदल जाएगी । सिमरिया गंगा घाट अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जल्दी पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाने लगेगा। बताते चलें कि इस कड़ी में उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद द्वारा सिमरिया के विकास पर उच्चस्तरीय बैठक बुलाई गई है। उक्त बैठक में मुख्य रूप से विकसित करने के लिए विधि व्यवस्था बनाए जाने की चर्चा की जाएगी। बताते चले कि पिछले साल बीहट नगर परिषद में क्षेत्र विस्तार हुआ तो सिमरिया गंगा घाट भी अब नगर परिषद के क्षेत्र में आ चुका है। जिसके कारण नमामि गंगे परियोजना का लाभ भी सिमरिया गंगा घाट को मिल पायेगा।

पिछले दिनों सांसद गिरिराज सिंह व एमएलसी सर्वेश कुमार की पहल पर कारगिल भवन में एक उच्चस्तरीय बैठक डीएम की अध्यक्षता में आयोजित हुई थी। जिसमें सिमरिया गंगा घाट के विकास संबंधित डीडीसी के संयोजन में एक टीम बनाकर ब्लू प्रिंट तैयार करने की बात पर सहमति बनी थी। बताते चलें कि सिमरिया आदिकाल से मिथिला का प्रसिद्ध गंगा घाट है। अर्ध कुंभ का भी मेला यहां हो चुका है । अब सिमरिया में जानकी पौड़ी के निर्माण के साथ-साथ आवागमन की सुविधा के लिए रिंग रोड सुरक्षित घाट एनडीआरएफ और एसटीआरएफ की टुकड़ी सालों भर यात्रियों के लिए रहने की सुविधा इत्यादि के विकास की मांग उठने लगी है। सबसे जरूरी चीज है कि सिमरिया में सुरक्षा व्यवस्था सुदृढ़ करने होगी नहीं तो आए दिन उत्पात हत्या रंगदारी जैसी घटनाएं सोया घाट पर श्रद्धालुओं के साथ घटती रहती है।

सिमरिया घाट के बारे में पटना में 3 सितंबर को उपमुख्यमंत्री , एमएलसी , सांसद सहित कई अन्य जन प्रतिनिधियों की मौजूदगी में एक बैठक आयोजित की गई है । जिससे आगामी समय में सिमरिया गंगा घाट के दिशा और दशा बदलने की तस्वीर का खाका तैयार किया जाएगा ।

You may have missed

You cannot copy content of this page