पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव का जन्मदिन राजद नेताओं ने उत्सवी माहौल में केक काटकर मनाया, उड़ाया कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां

Lalu Birthday Covid Protocol

न्यूज डेस्क : जिम्मेदार जब भूल बैठेंगे जिम्मेदारी तो कैसे खत्म होगी कोरोना महामारी । ये पंक्ति राजद नेताओं पर सटीक बैठती है। जब पूरा देश और राज्य कोरोना से जंग लड़ रहा है। तब जन्मदिन समारोह में समाज के जिम्मेदार लोगों के द्वारा कोविड प्रोटोकॉल को तार तार करना महंगा साबित हो सकता है। जयमंगला गढ़ में शुक्रवार को बिहार के पूर्व सीएम व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का जन्मदिन राजद नेताओं व कार्यकर्ताओं ने धूमधाम से मनाया।

राष्ट्रीय जनता दल बेगूसराय के द्वारा जयमंगलागढ़ मंदिर परिसर में राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष व शोषित वंचित के मसीहा लालू प्रसाद यादव का 74वां जन्मदिन केक काटकर उत्सवी माहौल में मनाया गया । इस अवसर पर चेरियाबरियारपुर के विधायक राजवंशी महतो, पूर्व विधान पार्षद तनवीर हसन, राजद महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष डॉ उर्मिला ठाकुर, पूर्व विधायक उपेंद्र पासवान एवं प्रदेश महासचिव डॉ अशोक कुमार यादव के द्वारा संयुक्त रुप से केक काटा गया। लालू यादव के जन्मदिन के शुभ अवसर पर जयमंगला गढ़ के स्थानीय महादलित मोहल्ले के लोगों को चावल दाल सब्जी का भोजन भी खिलाया गया । इसको लेकर स्थानीय राजद कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार की सुबह से ही तैयारी की थी । इस अवसर पर जिला महासचिव रामसखा महतो, राजद नेता सतीश कुशवाहा, सोनू रावत , राजद नेत्री सावित्री देवी, अहिल्या देवी , सहित अन्य मौजूद रहे ।

जन्मदिन का केक कटता रहा कोविड गाइडलाइन टूटता रहा : इस अवसर पर केक काटते वक्त राजद नेताओं और कार्यकर्ताओं के बीच दो गज की दूरी मिट गया । कुछ नेता मास्क लगाए हुए थे । कुछ के चेहरे पर मास्क तो था लेकिन नाक से नीचे और ज्यादातर बिना मास्क के ही थे । राजद नेताओं और कार्यकताओं की टोली केक काटने में इस कदर मसगुल हुई,कि कोविड प्रोटोकॉल भूल ही बैठे । बताते चलें कि इस वक्त बेगूसराय में कोरोना के मामले कम जरूर हुए हैं। परन्तु , कोविड गाइडलाइन पालन कराने को लेकर सरकार की सख्ती बरकरार है। ऐसे समय में यह सोचनीय है। कि समाज मे जनप्रतिनिधियों और नेताओं के इस तौर तरीके से समाज में लोगों के बीच कोरोना को लेकर दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी के इस लाइन के पालन को लेकर समाज में क्या संदेश जायेगा ।

You may have missed

You cannot copy content of this page