राज्यसभा सांसद प्रो राकेश सिन्हा ने NTPC – IOCL से 500 बेड के अस्पताल निर्माण की मांग की

Rakesh Sinha

न्यूज डेस्क : राज्यसभा सदस्य प्रो. राकेश सिन्हा ने गुरुवार को केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान तथा केंद्रीय ऊर्जा मंत्री राजकुमार सिंह से इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन और एनटीपीसी के माध्यम से बेगूसराय सहित उत्तर बिहार के लिए ऑक्सीजन, आईसीयू समेत अन्य स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने की अपील की है। धर्मेंद्र प्रधान को लिखे पत्र में उन्होंने कहा है कि आज जिस दौर से देश गुजर रहा है, उसमें हम सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व एवं उनकी प्रेरणा से अपने-अपने स्तरों पर यथासंभव कार्यरत हैं। वर्तमान दौर में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन का बरौनी रिफाइनरी इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। बिहार के जिस शहर में राज्य का एकलौता रिफाइनरी है, वह राज्य का एकमात्र औद्योगिक नगर है।

प्रधानमंत्री की कल्पना इस औद्योगिक शहर का विस्तार कर रही है, 2019 में इसके लिए केंद्र सरकार ने बड़ा पैकेज घोषित किया था लेकिन चिकित्सा के इंफ्रास्ट्रक्चर की दृष्टि से बेगूसराय क्षेत्र अविकसित है। स्वाभविक है कि संकट के इस दौर में लोगों की अपेक्षा इंडियन ऑयल से है।

बेगूसराय में कोरोना का संक्रमण गांवों तक फैल चुका है, लोग निजी अस्पतालों में संक्रमण का इलाज कराने में अक्षम है। इसलिए इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन उत्तर बिहार के लोगों को राहत देने के लिए 500 बेड का ऑक्सीजन सुविधा से युक्त अस्पताल बनाएं, जिसमें एक सौ आईसीयू की भी व्यवस्था करे। बेगूसराय क्षेत्र में कोरोना से मृत गरीब परिवार के बच्चों की शिक्षा में मदद करे तथा एक ऑक्सीजन प्लांट लगाए। आर.के. सिंह को लिखे पत्र में राकेश सिन्हा ने कहा है कि संकट का कठिन और चुनौतियों भरा दौर चल रहा है। बिहार में कोरोना के संक्रमण ने जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। इस क्रम में हर स्तर पर प्रयास हो रहा है तथा इसे और तेज करने की जरूरत है। बरौनी में नेशनल थर्मल पावर कॉरपोरेशन (एनटीपीसी) का यूनिट है, इसलिए लोगों की इससे अपेक्षा स्वभाविक है। बिहार के एकमात्र इस औद्योगिक नगर में कोरोना का संक्रमण काफी अधिक है, संक्रमण गांव तक पहुंच चुका है। औद्योगिक शहर की स्थिरता आर्थिक विकास के लिए भी आवश्यक है। इसलिए एनटीपीसी को इस दिशा में अधिक से अधिक सक्रिय होकर आम लोगों की मदद करने का निर्देश दें।

एनटीपीसी कम से कम ऑक्सीजन से युक्त 500 बेड का अस्पताल बनाए तथा इसमें 50 आईसीयू बेड की सुविधा हो। ऐसे अस्पताल की शुरुआत से बेगूसराय ही नहीं, मुंगेर, खगड़िया और समस्तीपुर जिले के लोगों को भी राहत मिलेगी। यह इसलिए जरूरी है कि कोविड-19 के तीसरे लहर की भी आशंका जताई जा रही है। इधर, संसद के इस पहल की लोगों ने काफी सराहना की है। भाजपा जिलाध्यक्ष राजकिशोर सिंह, वनवासी कल्याण आश्रम के जिलाध्यक्ष शम्भू कुमार, भाजपा के निवर्तमान अध्यक्ष संजय सिंह एवं नवीन सिंह आदि ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा वैश्विक महामारी के दौर में इस तरह के प्रयास से ही विजय प्राप्त किया जा सकता है

You cannot copy content of this page