बेगूसराय में एसबीआई से 4.91 लाख कैश के लूटकांड के उद्भेदन में पुलिस जांच हुई तेज, 24 घण्टे बाद भी हाथ खाली

SBI LOOT

न्यूज डेस्क , बेगूसराय : बेगूसराय के गढहारा थाना क्षेत्र में हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ब्रांच से चार लाख एकाएंबे हजार रुपये नगद लूट के करीब 24 घंटे बीतने के बाद भी बेगूसराय पुलिस इस मामले के उद्भेदन में सफलता नहीं पा सकी है । स्थानीय पुलिस ने एक संदिग्ध को हिरासत में लेकर घटना से संबंधित जानकारी जुटाने के प्रयास में जुटी हुई थी । परंतु उक्त घटना से युवक का कोई भी कनेक्शन नहीं मालूम चलने के बाद पुलिस ने युवक को मुक्त कर दिया । बेगूसराय पुलिस लगातार छापामारी में जुटी हुई है।

बताया जा रहा है कि बेगूसराय पुलिस कप्तान अवकाश कुमार तकनीकी टीम को लगातार अपने गाइडलाइन से कांड के जांच पड़ताल में वैज्ञानिक तरीके से लगाए हुए हैं। वहीं जिले में शक के आधार पर वैसे कुछ स्पोटस के सीसीटीवी फुटेज निकाले जा रहे हैं ताकि यह पता चल सके कि लुटेरे बैंक लूट के किधर से कहां गए हैं । बेगूसराय में बढ़ते क्राइम को लेकर लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है यह कोई पहली घटना नहीं है जब कोई इतनी बड़ी रकम की लूट हुई हो इससे पहले भी तेघड़ा थाना क्षेत्र में करोड़ों के आभूषण लूट कांड सहित कई ऐसे मामले आए हैं , जो बेगूसराय में क्राइम के बेतहाशा वृद्धि के परिचायक साबित हो रहे हैं। बिहार विधानसभा चुनाव होने के बाद बेगूसराय में बढ़े क्राइम रेट से जिला वासियों का जीना मुहाल हो गया है। वहीं बेगूसराय पुलिस लगातार दावा कर रही है कि बेगूसराय में क्राइम कंट्रोल है । परंतु आज से बीते दो तीन हफ्ते का रिकॉर्ड अगर देखा जाए तो बेगूसराय में विधानसभा चुनाव के बाद एक के बाद एक लूट कांड हत्या होती जैसी घटनाएं सामने आ रही है। वहीं दूसरी तरफ शराब माफिया भी शराब की तस्करी करने से बाज नहीं आ रहे हैं लगातार बेगूसराय पुलिस बड़ी बड़ी खेप को शराब को पकड़ने में सफलता पा रही है ।

परंतु गांव गांव तक निर्बाध रूप से शराब का भी सप्लाई हो रहा है सूत्र बताते हैं कि लोकल थाना के संरक्षण में ही ऐसे कारोबार फलते फूलते हैं परंतु जब वरीय अधिकारीयों की नजर उधर घूमती है। तो वह अपने को पाक साफ साबित करने के लिए कुछ गिरफ्तारियां या फिर कुछ शराब की बरामदगी करके शो ऑफ कर देते हैं , कि हमारे थाना क्षेत्र में शराबबंदी का पालन किया जा रहा है। वहीं गुरूवार को हुए एसबीआई लूट कांड के खुलासे तक लोग तरह-तरह के कयास लगा रहे हैं। बहरहाल पुलिस के हाथ खाली हैं लेकिन बेगूसराय पुलिस के ट्रैक रिकॉर्ड को अगर देखें तो अपहरण हत्या और सोना लूट कांड के मामले को जितनी जल्दी बेगूसराय पुलिस ने उद्भेदन किया है उसको लेकर लोगों को यह उम्मीद है कि इस घटना का भी उद्भेदन बेगूसराय पुलिस जल्द ही करेगी ।

You cannot copy content of this page