बेगूसराय : माता पिता घास लाने गए थे खेत, इधर अगलग्गी में दो वर्षीय बेटा जिंदा जल गया

FIRE

न्यूज डेस्क , बेगूसराय : ईश्वर की महिमा भी अपरंपार है जिस बालक को दुनिया देखने के लिए धरती पर भेजा , उसके दुनिया मे चलने बुलने घूमने फिरने से पहले ही उसे अपने पास बुला लिया। बेगूसराय में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। जिले चकिया ओपी क्षेत्र के पंगु बाबा आश्रम के पीछे तीन फुस का घर अगलग्गी मे स्वाहा हो गया। अगलगी के समय एक दो वर्षीय बालक घर में सो रहा था।

आग लगने के समय बच्चे के माता पिता दियारा में घास लाने गए थे । उसी समय फूंस के घर मे आग लग गया । देखते देखते आग की लपटें तेज हो गयी। लोगों ने किसी तरह आग पर काबू पा लिया । परन्तु दो वर्षीय बालक के घर मे सोये होने की बारे में लोगों को पता नहीं था, इस कारण कोई उसे बचा नहीं पाया। मंगलवार को इस अगलग्गी धर्मेन्द्र महतो का दो वर्षीय पुत्र विक्रम कुमार जिंदा जल गया । इस घटना की सूचना पाकर स्थानीय जनप्रतिनिधि भागे भागे पहुंचे।

सरकारी लाभ मिला होता तो बच जाती जिंदगी बताते चलें कि सरकार सभी गरीबो को पक्का मकान देने के लिए प्रतिबद्ध है। हालांकि सिमरिया दो पँचायत के बिंदतोली में उक्त अगलग्गी में जले हुए घर बालों को किन परिस्थितियों में पक्का मकान नहीं मिल पाया ये तो नहीं मालूम , पर अगर पक्का मकान मिल चुका होता तो दो वर्षीय बालक की जान नहीं जाती ।

You may have missed

You cannot copy content of this page