बेगूसराय में ऑक्सीजन की किल्लत या कालाबाजारी ! केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा अफवाह ना फैलाएं

Giriraj Singh Oxygen

न्यूज डेस्क : बेगूसराय में कोरोना की जद में आकर मरने बालों की संख्या में वृद्धि हुई है। हालांकि ठीक होने बाले लोग भी दोगुने रफ्तार से ठीक हो रहे हैं। हालात ऐसे हैं कि थोड़ी भी लापरवाही जान पर भारी पड़ने लगी है। 27 अप्रैल को अचानक बीमार हुए एक शख्स की मौत 6 मई की अहले सुबह हो गयी।

उक्त मरीज के परिजनों ने बताया इलाज के दौरान जांच के क्रम मे एक निजी चिकित्सक द्वारा कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी गई। साथ ही बेड खाली नहीं रहने के कारण चिकित्सक ने दवाई देकर होम आइसोलेशन मे भेज दिया । परंतु बुधवार को अचानक तबीयत बिगड़ने लगी। तो पुनः परिजनों के द्वारा चिकित्सक के यहां ले जाया गया । परंतु ऑक्सीजन लेवल की कमी के कारण कुछ सुधार नहीं हुआ। गुरुवार सुबह उक्त शख्स की मृत्यु हो गयी। अब कोरोना संभलने तक का मौका भी नहीं दे रहा है।

एक ट्विटर यूजर ने ट्वीट कर घटित हुई वाकया को लिखा है आज सुबह मेरी चचेरा जीजा बेगूसराय बहुत जगह ले गए सब हॉस्पिटल में oxygen नही है बोल कर भर्ती नहीं लिया लास्ट में सदर अस्पताल में भर्ती हैं कुछ सुधार नही हुआ जब तक हमसब पटना ले जाते वो नही रहे वो सिस्टम ने मार दिया उसको

बिजली बाधित होते से ऑक्सीजन रिफिलिंग में हुई थी समस्या बताते चलें कि बेगूसराय में डीएम अरविंद वर्मा के पहल पर जिले में दो ऑक्सीजन रिफलिंग फैक्ट्री जोर शोर से कार्यरत है। कोरोनाकाल में बेगूसराय के ऑक्सीजन से आसपास के सात जिलों के मरीजों को जिंदगी मिल रही है। परन्तु बीते पांच मई को कुछ घण्टे बिजली बाधित रहने से ऑक्सीजन रिफलिंग का कार्य कुछ घटों तक बाधित रहा । इसी कारण से निजी क्लिनिको में ऑक्सीजन की कमी की बात कही गयी। मरीज के स्वजन दिन से लेकर रात तक ऑक्सीजन के लिए भागदौड़ करते रहे ।

दस गुना तक बढ़ी है डिमांड एवं खपत दरअसल बेगूसराय में 5 सरकारी अस्पताल के साथ साथ 16 निजी अस्पतालों में भी कोरोना की इलाज की जा रही है। इस क्रम में एक चिकित्सक ने बताया कि इस वक्त कोरोना को लेकर बेगूसराय में अन्य दिन की अपेक्षा करीब दस गुना ऑक्सीजन खपत बढ़ी हुई है। जिस कारण से 5 मई को ऑक्सीजन रिफिलिंग कार्य बाधित होने से भरे हुए ऑक्सीजन सिलिंडर का शॉर्टेज होने लगा था।

जब वरिष्ठ पत्रकार ने ट्वीट किया तो केंद्रीय मंत्री ने बताया अफवाह दरअसल बेगूसराय के सांसद सह केंद्रीय मंत्री गिरिराज हाल में बेगूसराय जिले के विभिन्न अस्पतालों में जा जाकर हालात का जायजा और व्यवस्था की जानकारी ले रहे हैं। परंतु जब एक सीनियर जर्नलिस्ट ने बेगूसराय में पैदा हुए हालात पर ऑक्सीजन की कमी को लेकर बिहार के सीएम , स्वास्थ्य मंत्री व केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान , गिरिराज सिंह , रास प्रो राकेश सिन्हा सहित आदि लोगों को मेंशन कर ट्वीट किया तो । स्थानीय सांसद ने इस ट्वीट को ही अफवाह करार दिया ।

बेगूसराय निवासी डीडी न्यूज के सीनियर जर्नलिस्ट राजेश राज ने ट्वीट करते हुए लिखा कि बेगुसराय के कई अस्पतालों को ऑक्सीजन की किल्लत से जूझना पड़ रहा है। बिहार सरकार से तुरन्त हस्तक्षेप की मांग। मरीज की जान खतरे में

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का प्रतिउत्तर कल 2-3 घंटे बिजली बाधित होने के कारण थोड़ी परेशानी हुई थी, आज दोपहर तक टैंकर भी आ रहा है। ऑक्सीजन की कमी नहीं है इसलिए अफवाह न फैलाएं।

सदर विधायक कुंदन सिंह ने क्या कहा राजेश जी मैं लगातार सदर अस्पताल बेगूसराय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बछवाड़ा अनुमंडल अस्पताल,तेघड़ा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, नावकोठी कोविड केंद्र, इंजीनियरिंग कॉलेज में गया हूँ, कहीं पर भी ऑक्सिजन की समस्या नहीं बताई गई है।अगर आपको कोई जानकारी हो समस्या की तो मुझे जानकारी दें।

बड़ा सवाल ऑक्सीजन की कमी या कालाबजारी हालांकि सीनियर जर्नलिस्ट के ट्वीट को जब हमारी टीम ने पड़ताल की तो पाया कि 5 मई के शाम में बेगूसराय में चालू दो ऑक्सीजन प्लांट में बिजली बाधित होने के कारण ऑक्सीजन सिलेंडर की रिफिलिंग में थोड़ी दिक्कत आयी थी। जिस कारण कुछ निजी अस्पतालों ने भर्ती मरीज के परिजनों से ऑक्सीजन खत्म होने की बात कहीं। निजी अस्पतालों का यह भी तर्क है कि वेंटिलेटर चालू होने पर बड़ा ऑक्सीजन सिलेंडर करीब 20 मिनट तक में ही खत्म हो जाता है। ऐसे में ऑक्सीजन सिलेंडर की खपत बढ़ गयी है। दूसरी तरफ स्थानीय सांसद सह केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी जानकारी देते हुए बताया कि बिजली बाधित होने से व्यवस्था डगमगाई सबकुछ सही है। ऑक्सीजन टैंकर आने का दावा उन्होंने किया । ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि जब बेगूसराय में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है तो सोशल मीडिया पर जरूरत मंद लोग ऑक्सीजन की मदद मांगते क्यों नजर आ रहे हैं ? बेगूसराय में कहीं ऑक्सीजन की कालाबाजारी तो नहीं हो रही है। इन सभी चीजों पर जिला प्रशासन और स्थानीय सांसद को ध्यान देने की जरूरत है। ताकि ज्यादा से ज्यादा जानें बचाई जा सके ।

एमएलसी रजनीश कुमार पहले ही जता चुके थे ऑक्सीजन किल्लत की आशंका बेगूसराय खगड़िया के एमएलसी सह भाजपा नेता रजनीश कुमार ने कुछ दिनों पहले ही आशंका जताया था कि आने बाले समय में बेगूसराय में ऑक्सिजन कि किल्लत हो सकती है। उन्होंने 29 अप्रैल को देश के पीएम व राज्य के सीएम सहित अन्य लोगों को ट्वीट करते हुए लिखा था कि

त्राहिमाम! बोकारो प्लांट के इनॉक्स एयर प्रोडक्ट से मिल रहा लिक्विड ऑक्सीजन अब बेगूसराय की जगह दूसरे प्रदेश को भेजा जाएगा।जिससे ऊषा गैस देवना से आपूर्ति होने वाले बेगूसराय तथा अन्य जिलों में ऑक्सीजन की किल्लत हो जाएगी।

You cannot copy content of this page