आत्मनिर्भर भारत का आधार हमारी गाय , चले गाय की ओर चलें गांव की ओर – खेमचंद

Khemchand

न्यूज डेस्क : शनिवार को बेगूसराय शहर के अग्रसेन विवाह भवन में विश्व हिंदू परिषद गौ रक्षा विभाग भारतीय गौवंश रक्षण संवर्धन परिषद उत्तर बिहार के विभिन्न जिलों से गौ रक्षको गौ सेवकों किसानों एवं गौशालाओं के प्रतिनिधियों को संबोधित किया । विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मंत्री एवं गौ रक्षा केंद्रीय संगठन मंत्री खेमचंद ने संबोधित करते हुए कहा कि आज गोवंश की हत्या अवैध तरीके से हो रही है , जबकि गोवंश आज बहुत उपयोगी सिद्ध हो रहा है।

कर्ज मुक्त किसान अर्थात कम लागत से अधिक मूल्य कमाने के लिए रसायन मुक्त खेती अर्थात गोबर गोमूत्र से निर्मित खाद्य बनाकर कीट नियंत्रण बनाकर गोकृपा अमृतम उपयोग कर हम रासायनिक मुक्त खेती कर सकते हैं, तो हमें शुद्ध फल सब्जियों खाने को प्राप्त होंगे जब हम रोगमुक्त परिवार एवं रोजगार युक्त नौजवान गो उत्पाद से साबुन शैंपू धूपबत्ती इत्यादि बनाकर आज हजारों व्यक्ति परिवार चला रहे हैं ।

गोवंश आधारित खेती किसानों को खुशहाली ला सकता है संगठन मंत्री खेमचंद ने कहा कि रोजगार युक्त नौजवान कर्ज मुक्त किसान स्वस्थ भारत नशा मुक्त भारत देसी गौ युक्त भारत भारतीय नस्ल की गाय के दूध गोबर मूत्र छाछ इत्यादि का प्रयोग कर आत्मनिर्भर भारत स्वावलंबी भारत का कल्पना किया जा सकता है। भारत से पूरे देश में गोबर से उत्पादित उत्पादित फल सब्जियां विदेशों में जाती थी और बदले में हमें सोना मिलता था इसलिए भारत को सोने की चिड़िया का उपाधि दिया जाता था। घर-घर गाय और गांव-गांव गौशाला हमारा संगठन का ब्यौरा आधार बनाकर कार्य करना है ,चलो गाय के साथ क्षेत्रीय गौरक्षा प्रमुख त्रिलोकीनाथ बागी ने कहा कि कानून के उल्लंघन कर धराके से गौ तस्करी हो रहा है।

बिहार सरकार को बिहार में भी अन्य प्रांतों की तरह गौ सेवा आयोग बना कर के गौ संरक्षण करना चाहिए।। पशु क्रूरता निवारण समिति को क्रियान्वित करना चाहिए और तस्करी को रोकने का कठोरता से पालन करवाना चाहिए बिहार का बच्छोर नस्ल की गाय लुप्त होते जा रही है । इसलिए बिहार के जो नस्ल का बढ़ावा एवं पालन देसी गाय पर लोन किसान को देना चाहिए । इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए गौशाला गौशाला समिति के सचिव विनोद हिसारिया ने कहा कि आज बिहार में गौशालाओं की स्थिति अच्छी नहीं है गौशाला में गायों के रखरखाव में बजट बनाकर अनुदान की व्यवस्था किया जाना चाहिए तथा अपने भारतीय नस्ल की गायों को संवर्धन कर अच्छी नस्ल सुधार के दूध उत्पादन में वृद्धि करवाना चाहिए। वही गौशाला की जमीनों को गोचर भूमि मुक्त कराकर गायों के हित में उनकी जमीन गौशालाओं को दिया जाए।। इस अवसर पर विधायक सुरेंद्र मेहता ,विश्व हिंदू परिषद के असरफी दास ,ब्रजकिशोर, रामशंकर कश्यप, के डी झा, पवन देव ,मृत्युंजय कुमार वीरेश ,निरंजन सिंह, सुनील सिंह, बलराम सिंह मौजूद थे

You may have missed

You cannot copy content of this page