विवाहिता को नहीं हुआ संतान तो ससुराल वालों ने गला दबाकर ले लिया जान

JAAN

डेस्क : बेगूसराय जिले के मंसूरचक थाना क्षेत्र से एक ऐसी खबर निकल कर आ रही है। जो, की आधुनिक समाज के लिए शर्मसार और कलंकित करने बाली है। घटना मंसूरचक प्रखंड क्षेत्र के आगापुर नवटोल गांव की है। जहां एक एक 22 वर्षीया प्रीति देवी नवविवाहिता को ससुराल वालों पर इसलिए गला दबाकर मार देने का आरोप लग रहा है। क्योंकि विवाहित को संतान नही हो रहा था। इस घटना की सूचना मिलते ही मृतका के मायके बछवाड़ा थाना क्षेत्र की अरबा पंचायत के नयाटोल गांव में कोहराम मच गया। जबकि मृतका का पति समेत अन्य परिवार घर छोड़कर घटनास्थल पर से फरार हो गये। घटना की सूचना मिलते ही मंसूरचक थानाध्यक्ष पवन कुमार सिंह ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। 

थानाध्यक्ष ने बताया हत्या का मामला है थानाध्यक्ष पवन कुमार सिंह ने बताया कि गले व हाथ पर चोट के निशान देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा है। कि यह हत्या का मामला है। खैर, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति और स्पष्ट हो जाऐगी। जबकी, मृतका का भाई सिकंदर पासवान ने बताया कि चार दिन पहले उसकी बहन ने सूचना दी थी। कि बच्चा नहीं होने पर पति रमेश पासवान और ससुरालवाले उनके साथ मारपीट व प्रताड़ित कर रहे हैं। उसके बाद सोमवार की सुबह पड़ोस वालों ने सूचना दी कि उसकी बहन की मौत हो गयी है।

मृतिका की 2018 में हुई थी शादी लड़की के परिजनों ने बताया कि प्रीति की शादी वर्ष 2018 में आगापुर नवटोल गांव निवासी देवीलाल पासवान के पुत्र रमेश पासवान के साथ हिन्दु रीति-रिवाज ‌के साथ संपन्न हुआ था। गरीबी और तंगी के मार झेल रहे प्रीति अपने सास ससुर के साथ मजदूरी कर परिवार चलाती थी। और पति रमेश पेशे से एक राजमिस्त्री थे।

कमरे की जितनी उंचाई है उसके अधिक लंबी थी प्रीति मृतका के भाई ने बताया उसके कमरे की जितनी उंचाई है। उसके अधिक लंबी तो हमारी बहन थी। घर के अंदर प्रीति का शव देखते ही परिवार के सभी लोग चीख मारकर रोने लगे। मा‌यके बाले का आरोप है। ससुराल वालों के द्वरा की प्रीति का गला दबाकर हत्या की गई है। घटना के देर के लिए समसा- भगवानपुर पीडब्ल्यूडी सड़क को भी जाम कर दिया। मौके पर पहुंचे मंसूरचक थानाध्यक्ष पवन कुमार सिंह के काफी समझाने के बाद लोग शान्त हुये। उसके बाद पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

You may have missed

You cannot copy content of this page