Barauni Refinery Begusarai में फर्नेस फटने की घटना में टला बड़ा हादसा, प्रबंधन ने कहा होगी जांच फिलहाल सभी सुरक्षित

Barauni Refinery Begusarai

न्यूज डेस्क : बरौनी रिफाइनरी प्रबन्धन ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा है कि आज सुबह 10.30 बजे एवीयू-1 यूनिट के लाइटअप के दौरान एवीयू-1 यूनिट का फर्नेस फट जाने की घटना हुई, जिसके दबाव की वजह से वहाँ काम कर रहे लोगों को चोटें आयी हैं। फर्नेस फटने की घटना से कोई भी आग नहीं लगी है और ना ही किसी की मृत्यु हुई है। घायल हुए लोग पूरी तरह से सुरक्षित हैं। इस घटना की तकनीकी जांच की जा रही है और इससे रिफाइनरी के परिचालन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। किसी के लिए भी घबराने का कोई कारण नहीं है क्योंकि रिफ़ाइनरी के अंदर और बाहर सभी लोग पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

जिला प्रशासन से एसडीएम और डीएसपी ने घटना स्थल का दौरा किया और स्थिति को पूरी तरह से नियंत्रित बताया। बरौनी रिफाइनरी में 20 अगस्त 2021 से रिफ़ाइनरी के योजनाबद्ध शटडाउन का कार्य चल रहा है। इसी क्रम में यूनिट के लाइटअप का काम इन दिनों किया जा रहा है। इस घटना के तुरंत बाद रिफाइनरी की आपातकालीन आपदा रिस्पोंस प्रबंधन प्रणाली तुरंत सक्रिय हुई और त्वरित कार्रवाई करते हुए 19 घायल लोगों को प्राथमिक चिकित्सा उपलब्ध कराई गई और फिर रिफाइनरी अस्पताल और ग्लोकल अस्पताल में उचित चिकित्सा उपचार के लिए भर्ती किया गया हैं और सभी की हालत स्थिर है। घायल हुए लोगों में 05 रिफाइनरी कर्मी और 14 ठेका श्रमिक का उपचार चल रहा है।

जिनके नाम इस प्रकार हैं: मेसर्स एनएसीपीएल के मो. शाद आलम, लक्ष्मण कुमार, सौरभ कुमार, भूधो तांती, नीलेश भारद्वाज, नीतीश कुमार और सौरव कुमार सभी ग्लोकल हॉस्पिटल सिंघौल में भर्ती हैं। मेसर्स बीआरकेएस के अवधेश ठाकुर, ग्लोकल हॉस्पिटल सिंघौल में भर्ती हैं। मेसर्स बीआरकेएस के गोपाल सिंह, बब्बन सिंह, गाजो तांती राजेश कुमार और भावेश कुमार रिफाइनरी अस्पताल में भर्ती हैं। मेसर्स छोटेलाल सिंह के अभिषेक कुमार रिफाइनरी अस्पताल में भर्ती हैं। बरौनी रिफाइनरी के कर्मचारी एस के सिन्हा, सत्य प्रकाश, रंजन कुमार, जमील अहमद और ए के मिश्रा का इलाज भी रिफाइनरी अस्पताल में चल रहा है। इंडियन ऑयल अपने कर्मचारियों ठेका श्रमिकों और रिफ़ाइनरी के आस-पास रहने वाले लोगों की सुरक्षा के प्रति पूरी तरह से सजग प्रतिबद्ध और सक्षम है।

You cannot copy content of this page