महापर्व छठ : बेगूसराय के नदी घाटों, पोखरों व घरों पर तात्कालिक पोखर में लोगों ने अस्ताचलगामी सूर्य को दिया अर्ध्य

बेगूसराय : श्रद्धा और लोक आस्था का महापर्व छठ पूजा को लेकर देश भर में धूम मचा हुआ है। शुक्रवार की शाम ढलते हुए सूरज को संध्या अर्ध्य देकर लोग छठ पूजा का तीसरा दिन मना रहे हैं। नदी घाट, पोखरों और घर पर ही तात्कालिक पोखर का निर्माण कर छठ पूजा मना रहे हैं। साथ ही साथ जिले भर के तमाम नदी घाटों पर भी लोगों की भीड़ दिख रही है।

कोरोना काल में भी जहां एक तरफ सरकार के द्वारा एहतियातन दो गज की दूरी और मास्क को लेकर जो भी गाइड लाइंस जारी किए गए थे। उसका लोगों ने ख्याल रखना मुनासिब नहीं समझा। बहरहाल बेगूसराय में जिला मुख्यालय के तमाम पोखरों पर ऑफिसर कॉलोनी, रतनपुर पोखर, बड़ी पोखर इत्यादि जगहों पर लोगों की भारी भीड़ जुटी । वही गंगा घाट बूढ़ी गंडक नदी घाट समेत जिले के तमाम पोखरों पर आस्था के महापर्व छठ को मनाने को लेकर लोग एकत्रित हुए और अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देकर नमन किया।

मिली जानकारी के अनुसार बेगूसराय के तमाम घाटों पर शांतिपूर्ण तरीके से शाम का अर्ध्य संपन्न हो रहा है। किसी भी तरह की अप्रिय घटना की कोई सूचना नहीं है बीते दिनों पहले जिलाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने तमाम अनुमंडलाधिकारी, सिविल सर्जन सहित अन्य अधिकारियों को आदेश देकर कहा था कि तमाम घाटों पर प्रशासनिक निगरानी किया जाए साथ ही साथ जो खतरनाक घाट है उसको प्रतिबंधित किया जाए जिसको लेकर जिले भर में प्रशासनिक व्यवस्था काफी चुस्त दुरुस्त दिख रही थी आला अधिकारी से लेकर प्रखंड स्तरीय अधिकारी तक घाटों पर निरीक्षण एवं जायजा ले रहे थे।

वही बेगूसराय पुलिस के द्वारा किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए सभी थानाध्यक्षों की मुस्तैदी अपने अपने क्षेत्र के घाटों पर दिख रही थी। लोक आस्था का महापर्व 4 दिनों तक चलता है जिसका तीसरा दिन शुक्रवार को साथ लोगों ने भगवान भास्कर को नमन किया और सुबह के वक्त यानी शनिवार को लोक आस्था के महापर्व का समापन होगा और उसमें उदयाचल सूर्य को अर्ध्य देकर लोग फिर 1 साल के लिए छठ का इंतजार करेंगे।

आप पर बने रहे द बेगूसराय की खबर के साथ मिलती रहेगी आपको जिले भर की तमाम अपडेटस