हरतालिका तीज का व्रत के लिए जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

डेस्क : हरितालिका तीज भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। इस साल हरितालिका तीज 21 अगस्त शुक्रवार को पड़ रही है ज्योतिषाचार्य पं.अविनाश शास्त्री ने बताया कि शास्त्रों के अनुसार, हरितालिका तीज को सबसे बड़ी तीज माना जाता है। हरितालिका तीज से पहले हरियाली और कजरी तीज मनाई जाती हैं। शास्त्रों के अनुसार, इस व्रत को रखने से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है। यह एक ऐसा व्रत है जिसे सुहागिनों के अलावा कुंवारी कन्याएं भी रखती हैं। हरितालिका तीज में भगवान शिव और माता पार्वती की विधि-विधान से पूजा की जाती है।

हरितालिका तीज शुभ मुहूर्त

  1. सुबह 5 बजकर 24मिनट से सुबह 7:40 मिनट तक।
  2. शाम को हरितालिका तीज पूजा मुहूर्त- शाम 6 बजकर 54 मिनट से रात 9 बजकर 6 मिनट तक.!

हरितालिका तीज पूजा विधि

  1. हरितालिका तीज में श्रीगणेश, भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा की जाती है।
  2. सबसे पहले मिट्टी से तीनों की प्रतिमा बनाएं और भगवान गणेश को तिलक करके दूर्वा अर्पित करें।
  3. इसके बाद भगवान शिव को फूल, बेलपत्र और शमिपत्री अर्पित करें और माता पार्वती को श्रृंगार का सामान अर्पित करें।
  4. तीनों देवताओं को वस्त्र अर्पित करने के बाद हरितालिका तीज व्रत कथा सुनें या पढ़ें।
  5. इसके बाद श्रीगणेश की आरती करें और भगवान शिव और माता पार्वती की आरती उतारने के बाद भोग लगाएं……!!