ऐकम्बा पंचायत में कृषि विभाग बिहार सरकार आत्मा बेगूसराय के तत्वाधान में तहत किया गया किसान गोष्ठी आयोजन

Kishan Gosto

न्यूज डेस्क : बेगूसराय के छौड़ाही प्रखण्ड अंतर्गत एकम्बा पंचायत के किसान सह किसान सलाहकार के धान के श्री विधि एवं डीएसआर विधि पर किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया, इस आयोजन में छौराही प्रखंड के किसानों ने भाग लिया।पंचायत के प्रगतिशील किसान और किसान सलाहकार अनीश कुमार ने इस वर्ष अपने 8 एकड़ भूमि पर धान की खेती की तीन विधियों से बुवाई की है। जिसमें डीएसआर विधि किसानों के लिए वरदान साबित होने वाला है।और श्री कुमार का मानना है। डीएसआर विधि से धान 60 क्विंटल प्रति एकड़ से अधिक होने की संभावना है। सीधी बुवाई एक ऐसी तकनीक है।

जिसमें धान की रोपाई ना करके धान की सीधी मशीन से खेत में बुवाई की जाती है।धान की सीधी बुवाई में जीरो टिलेज मशीन से 2 से 3 सेंटीमीटर गहराई पर बोई जाती है। तथा पंक्ति से पंक्ति की दूरी 18 से 20 सेंटीमीटर रखी जाती है। धान की सीधी बुवाई में जमाव से पूर्व और जमाव के बाद खरपतवार नासी का प्रयोग किया जाता है। जिसमें जमाव के पूर्व पेंडिमैथलीन या प्रेटिलाक्लोर सेफरन नामक दवा का प्रयोग करते हैं। एवं जमाव के बाद बिस्पाइरीबेक सोडियम नामक दवा का प्रयोग किया जाता है।इस धान को बुवाई के समय 6 किलो धान में 50 किलो डीएपी या एनपीके के साथ मिश्रित करके बुवाई की जाती है। इस विधि से धान की खेती करने में खेत में पड़लिंग (कादो करना) की आवश्यकता नहीं होती है।

बीज को नर्सरी में गिराने की आवश्यकता नहीं होती है।वही साथ ही रोपनीहारों के द्वारा रोपाई की भी आवश्यकता नहीं होती है।इस तरह रोपनी के समय का सारा खर्चा लगभग 8000 प्रति एकड़ की शुद्ध बचत होती है। सभा की अध्यक्षता पूर्व निदेशक डॉ राम कृपालु सिंह ने की उन्होंने अपने सेवानिवृत्ति के समय से अब तक कृषि के क्षेत्र में हुए प्रगति को किसानों से साझा किया। इस कार्यक्रम में बायर कंपनी के संजीव कुमार किशन कुमार और आदित्य कुमार ने भी किसानों को धान के खेती के संबंध में विस्तार से बताया की श्री संजीव कुमार ने बताया कि किसानों को मिट्टी में फिपरोनिल का इस्तेमाल करना चाहिए।इससे दीमक तथा तना छेदक कीड़ों से पौधों को निजात मिल सकेगा।

प्रोपिनेभ और इमिडाक्लोप्रिड का छिड़काव करना चाहिए,दाना के भराव अवस्था में टैबूकोनाजोल और एजस्टरोबिन का व्यवहार करना चाहिए, ब्लॉक टेक्निकल मैनेजर कुणाल कृष्ण ने आत्मा की योजनाओं से किसानों को अवगत कराया। उपस्थित किसानों में एकंबा पंचायत के अलावा नारायण पीपर पंचायत और अन्य पंचायतों के भी किसान उपस्थित थे। सज्जनदू राय ,अनिल कुमार राय, एकंबा से रंजन कुमार सिंह राज किशोर सिंह चंदन कुमार सिंह समेत 100 के करीब किसान उपस्थित थे।प्रखंड कृषि कार्यालय से कृषि समन्वयक पवन कुमार सिंह अरविंद कुमार मोहन ,किसान सलाहकार अमरेंद्र कुमार आदि भी उपस्थित हुए।

You cannot copy content of this page