बेगूसराय से किडनैप कर वैशाली में उतारा मौत के घाट, लापता व्यवसाई का चार दिन बाद शव बरामद

तेघड़ा/बेगूसराय : तेघडा बाजार अंतर्गत रजिस्ट्री कार्यालय में दुकान चला कर अपना जीवन जीने वाले सेठ चौरसिया की अपहरण के 4 दिन बाद शव मिला। उनका शव वैशाली जिले के देसरी थाना अंतर्गत एक सड़क भंवरा में पाया गया । जिसको देसरी थाना ने पोस्टमार्टम करवाकर सदर अस्पताल हाजीपुर में सार्वजनिक तौर पर रखा था । जिसकी जानकारी मिलते ही तेघड़ा थाना की मदद से परिजनों ने शव को तेघड़ा लाया।

शव आते ही परिवार वालों में कोहराम मच गया। जानकारी देते हुए मृतक के भाई ने बताया कि मृतक सेठ चौरसिया ने अपने साढू के लड़की की शादी गांव के ही अमरेश कुमार के साथ लगभग 3 साल पहले करवाया था। शादी के कुछ दिन के बाद अमरेश कुमार और उसकी पत्नी में अन-बन चलती रहती थी ,जिसके कारण कई बार ग्रामीण स्तर पर पंचायती भी किया गया था ।उसके बाद भी जब अमरेश कुमार नहीं माना तो गांव वालों के पंचायती उपरांत सेठ चौरसिया ने अपने साढू के लड़की की शादी दूसरे जगह करवा दी, हालांकि अमरीश कुमार को एक बेटा भी है जो उसके साथ रहता है, जबकि वर्तमान में लड़की लुधियाना में अपने दूसरे पति के घर में रहती है।

इसी बात को लेकर अमरेश कुमार ने 4 नंबर को सेठ चौरसिया को उनके घर पर से ही किसी बहाने बुलाकर ले गया और उसके बाद आज सुबह शव परिवार वालों को बरामद हुई है। हालांकि लोगों का गुस्सा है कि जिस तरह से सेठ चौरसिया की निर्मम हत्या की गई है वह अपने आप में बेहद दुखद और गंभीर है , लोगों ने घंटों सड़क पर सबको रख कर अमरेश कुमार के ऊपर भी उचित कानूनी कार्रवाई कि मांग किया एवं उसे कड़ी से कड़ी सजा मिले इसके बारे में भी अनुरोध किया हालांकि लोगों ने रविवार की सुबह थाना के पास शव को रख कर घंटों बवाल मचाया उसके बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी तेघ डा संदीप पांडे एवं अंचल अधिकारी तेघड़ा परमजीत सिरमौर के पहुंचने के बाद पीड़ित परिवार वालो को परिवार लाभ योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि मुहैया कराई गई तथा हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया गया ।

वहीं थाना अध्यक्ष तेघडा हिमांशु कुमार ने कहा कि हम अति शीघ्र आरोपित को गिरफ्तार करके उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई करेंगे। घंटों माना मानी के बाद मामला खत्म हुआ और फिर लोग शव को उठा कर दाह संस्कार के लिए ले गया वहीं दूसरी तरफ एफ आई आर के आधार पर आरोपियों को पकड़ने के लिए तेघड़ा थानाध्यक्ष ने छापेमारी शुरू कर दिया है।घंटों मशक्कत के बाद सड़क को खाली करवाया गया और यातायात सुविधा फिर बहाल करवाएगी।