पूरे 20 महीने बाद शुरू हुआ फिजिकल मोड में बेगूसराय जिला न्यायालय में न्यायिक कार्य

District Court Begusarai

डेस्क : कोरोना वायरस का विश्वव्यापी असर जो रहा उस से न्यायिक कार्य भी वंचित न रह। न सिर्फ उच्चतम न्यायालय और उच्च न्यायालय बल्कि जीका न्यायालयों में भी कार्य काफी बाधित रहा। हालांकि कुछ महीनों से ऑनलाइन तरीके से वर्चुअल मोड से आवश्यक कार्यो को किया जा रहा था। पर इसमें भी काफी परेशानियां का सामना करना पड़ रहा था। न ही कार्य सही तरीके से संचालित हो पा रहा था।

हालांकि अब बेगूसराय जिला एवं सारे अनुमंडल न्यायालय में सोमवार से शुक्रवार तक फिजिकल कोर्ट में काम होगा। सिर्फ शनिवार को ही कोर्ट अब वर्चुअल तरीके से कार्य करेगी।वर्ष 2020में कोरोना की शुरुआत कर बाद लगभग पिछले 20 महीने से न्यायालय का काम सही तरीके से नहीं चल पा रहा है।अर्जेंट मैटर्स को ही सिर्फ न्यायालय देख रही थी। लेकिन अब फिर से पूर्ववत न्यायिक कार्य किये जाएगे।और सभी मुकदमो की सुनवाई होगी।

जिला वकील संघ और जीला अधिवक्ता संघ लगातार ही मांग कर रहे थे कि फिजिकल तरीके से कोर्ट का काम शुरू किया जाए।क्योंकि अब हर विभाग में फिजिकल कार्य करने लगे हैं। सिर्फ न्यायिक कार्य ही शुरू नहीं किया गया। जिसका साफ असर वकीलों पर आर्थिक रूप से पड़ता दिख रहा है।कइयों ने तो मजबूरी में आकर दूसरा पेशा अपना लिया।न सिर्फ वकील बल्कि जिन लोगो पर मुकदमे हुई हैं वो भी भी लंबे वक़्त से फॅसे हुए हैं।सबका काम पेंडिंग पड़ा हुआ है।उपरोक्त परिस्थितियों को देखते हुए बेगूसराय को दोनों संघ के महासचिव ने न्यायालय को फिजिकल चलाने की मांग की तब जाकर जिला एवं सत्र न्यायधीश मोहम्मद शमीम अख्तर ने नोटिफिकेशन जारी करके बताया कि अब सारे न्यायिक कार्य फिजिकली होंगे। सिर्फ शनिवार को वर्चुअली कार्य किया जाएगा।

You may have missed

You cannot copy content of this page