बेगूसराय में कोरोना का टीका लिये बिना ही मोबाइल पर भेज दिया मैसेज Successful का..

Covid Vaccination Centre Begusarai

न्यूज डेस्क : बिहार का स्वास्थ्य विभाग एक बार फिर सवाल के घेरे में नजर आता दिख रहा है। कारनामा ऐसा कि बिना कोरोना कोविड-19 का वैक्सीन लिए ही महिला के मोबाइल पर सक्सेसफुली का मैसेज आ गया। मैसेज में लिखा है.. “डियर रेखा कुमारी सिन्हा, यू हैव सक्सेसफुली बीन वैक्सीनेटेड विथ योर फर्स्ट डोज विथ कोविशील्ड ऑन दो अप्रैल एट 2.04 पीएम। यू मे डाउनलोड योर वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट फ्रोम…। यह मैसेज बेगूसराय के बाघा जिला निवासी शिक्षक वीरेंद्र कुमार की पत्नी रेखा कुमारी सिन्हा को आया है।

महिला ने टीका लेने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था उक्त शिक्षक की पत्नी ने बताया कि वह अपने पति के साथ बेगूसराय जिले स्थित आयुर्वेदिक कॉलेज में कोरोना का टीका लगाने गयी थी। जबकि महिला 25 मार्च को ही रजिस्ट्रेशन कराया था। तथा दो अप्रैल को टीका लेने का समय दिया गया था। जबकी, उक्त महिला को टीका लेने का आईडी नंबर भी मिल गया था। सिर्फ टीका का इंतजार कर रही थी।

महिला का आरोप है टिका के पहले ही मैसेज आया था सूचना मिली थी कि केंद्र पर टीके का स्टॉक खत्म हो चुका है। महिला ने बताया की हमको फोन करके बोला गया था। अगले दिन आइएगा तब टीका लगेगा। महिला का आरोप है। कि जिसने शुक्रवार को नंबर लगाया उसे टीका लगा दिया गया। और जिसने एक हफ्ते पहले नंबर लगाया वो टीके से वंचित रह गया। और मोबाइल पर मैसेज भी भेज दिया गया कि आपका करोना टीकाकरण सफल रहा। यानी वैक्सिनेशन डन। जब महिला अपने पति के साथ घर आ गयी। मोबाइल पर मैसेज पढ़ा कि वैक्सिनेशन सक्सेफुल हो गया। तब वह तुरंत चौंक गयी। मुझे तो टीका भी नही लगाया गया। तो इस तरह का मैसेज क्यों आया। उन्होंने डीएम से उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।

इस संबंध में क्या कहते हैं जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ गोपाल मिश्रा ने बताया टीकाकरण के मामले में जो पहले नंबर लगाएंगे उन्हें पहले टीका लगाना चाहिए। यदि ऐसा नहीं हुआ है इसकी जांच होगी। संबंधित ऑपरेटर को सावधानी बरतनी चाहिए। ताकी इस तरह का मैसेज नहीं जा सके। कभी-कभी भूलवश भी मैसेज चला जाता है। अगले दिन वंचितों को टीका लगाया जाएगा।

You may have missed

You cannot copy content of this page