बेगूसराय में मिले A-47 से मेरा नहीं है कोई वास्ता – सदर विधायक

Kundan Singh

न्यूज डेस्क : एके 47 मामले में सदर विधायक कुंदन सिंह ने प्रेस को सम्बोधित किया है। सदर विधायक कुंदन सिंह ने बताया कि बीते कल एसपी साहब का एक पीसी हुआ। जो सोशल मीडिया के माध्यम से खबर प्रकाशित हुई। जिसको मैंने बारीकी ढंग से सुना। इसी को लेकर बहुत से मुझे मिडियाकर्मी का फोन आ रहा था कि आप इस बारे में कुछ अपना बयान दीजिए। इसीलिए मैंने आज यह प्रेस वार्ता रखा। इसी दौरान विधायक कुंदन ने बताया कि एसपी साहब पीसी के दौरान बता रहे थे कि ड्राइवर मंजेश के घर से एके-47 बरामद किया गया। जोकि चौधरी नंदन का ड्राइवर था।

इसी दौरान एक मीडिया कर्मी ने पूछा कि क्या या आरोपी विधायक का भाई है क्या? विधायक कुंदन ने बताया कि और उनको जानकारी लेना था तो पहले वह उनके माता-पिता के नाम जान लेते, इसी दौरान एसपी साहब बोले यह AK47 मंजेश के घर से बरामद किया गया। और वह कहता है कि नंदन चौधरी का ड्राइवर है। अब सही क्या है गलत क्या है यह फैसला तो पुलिस प्रशासन और कोर्ट तय करेगी। दोनों तरफ जांच जारी है क्या सही है क्या गलत है जल्दी फैसला हो जाएगा। इस दौरान विधायक बोलते हैं, SP के पीसी के दौरान एक पोर्टल की मीडिया कर्मी पूछते हैं। क्या यह एके-47 का कनेक्शन विधायक कुंदन सिंह से तो जुड़ा नही है। इसी दौरान विधायक इस बात को खंडन करते हुए कहते हैं। यह एके-47 से मेरा कोई वास्ता नहीं है। भगवान से भी अनुमति मांगता हूं कि मेरा एके-47 से कनेक्शन ना हो और भविष्य में भी ना कभी हो आप लोगों को अधिकार मिलता है सही है लेकिन केवल एक ही आदमी का आवाज आ रहा था मेरे अपने भाई नहीं थे बल्कि फुफेरे भाई थे।

हां कुछ अपराधी होते हैं दोषी होते हैं लेकिन उसके पहले उसके माता-पिता होते हैं बिना माता-पिता के कोई इस धरती पर कोई पैदा ही नहीं होता है कोई गलती करता है तो उसके माता-पिता को दोषी नहीं माना जाता हैं। विधायक आगे बताते हैं कि जिसमें ड्राइवर ने आरोप लगाया कि चौधरी नंदन का ड्राइवर है जो कि मेरा फुफेरा भाई है। इससे मेरा कोई कनेक्शन नहीं है यह आरोप गलत है कि सही है इसका तहकीकात पुलिस कर रही है। यह सभी घटना बिल्कुल ही गुनाह है। इस तरह का काम लोगों को नहीं करना चाहिए। आगे बताते हैं कि सबको पता चला है कि एके-47 मेरे घर से बरामद किया गया।

You may have missed

You cannot copy content of this page