बेगूसराय में एकबार फिर मानवता शर्मसार, गन्ना खेत में ले जाकर नाबालिग से किया दुष्कर्म, आरोपित गिरफ्तार

rape-bgs-1

न्यूज डेस्क : बेगूसराय के छौड़ाही ओपी थाना क्षेत्र में लगातार नाबालिग से दुष्कर्म किये जाने का मामला आ रहा है।इससे आसपास के इलाके में लोगों में खौफ का मंजर साफ दिख रहा है।कब किसकी अस्मत लुट जाय यह कहना मुश्किल हो रहा है।ऐसा प्रतीत हो रहा है कि ऐसे अपराध को अंजाम देनेवालों में पुलिस का भी खौफ नहीं रहा।यही वजह है कि विगत तीन महिनों में क्षेत्र के अलग अलग पंचायतों में तीन मासूमों के साथ दरिंदगी की घटना ने साफ परिलक्षित कर दिया है कि ऐसे बिगड़ैल प्रवृत्ति के मनचले में कानुन का खौफ नहीं है।

ताजा घटना नारायणपीपड़ पंचायत से जुड़ा है।जहाँ के ग्यारह वर्षीय नाबालिग को जबरन एक 25 वर्षीय युवक ने गाँव से कुछ ही दुर पर गन्ना के खेत में ले जाकर बालिका को हवस का शिकार बनाया।घटना की सुचना मिलते ही गाँव के लोगों में भारी आक्रोश उत्पन्न हो गया।घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया था।घटना के बावत थानाध्यक्ष राघवेन्द्र कुमार ने बताया कि शुक्रवार 10 सितंबर 2021 की देर शाम घटना को अंजाम दिये जाने की बात बतायी गयी है।थानाध्यक्ष ने बताया कि जैसे ही पिड़ित पक्ष की ओर से घटना की सुचना मिली पुलिस त्वरित कार्रवाई करते एफआईआर दर्ज कर आरोपी की गिरफ्तारी के लिये छापेमारी शुरू कर दी,और रात तक पुलिस छापेमारी कर आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया।थानाध्यक्ष ने बताया गिरफ्तार दुष्कर्म का आरोपी नारायणपीपड़ पंचायत के ही राजेन्द्र महतो का पुत्र संतोष कुमार है।थानाध्यक्ष ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी को शनिवार को न्यायिक हिरासत व्यवहार न्यायालय में उपस्थित कराया गया।जहाँ से न्यायालय के आदेश पर आरोपी को जेल भेज दिया गया।थानाध्यक्ष ने बताया कि पिड़िता को मेडिकल के सदर अस्पताल बेगूसराय भेजा गया है।

विदित हो कि इससे पूर्व सहुरी पंचायत के पुरपथार गाँव में एक सात वर्षीय बच्ची के साथ 16 जुलाई 2021 एवं ऐजनी पंचायत के ऐजनी गाँव में 16 अगस्त 2021 को एक पाँच वर्षीय बच्ची के साथ हवस के दरिंदों ने मासुम बच्चियो को हवस का शिकार बनाया था।फिलहाल उक्त दोनों आरोपित भी जेल के सलाखों में है।लगातार हो रहे ऐसे जघन्य अपराध से आमलोगों में भारी आक्रोश और गुस्सा देखा जा रहा है।बोले थानाध्यक्ष ने घटना के तुरंत बाद पुलिस पदाधिकारी को घटनास्थल की ओर भेजा गया।पिड़िता के परिजनों के लिखित बयान के आधार पर एफआईआर दर्ज कर देर रात को ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।गिरफ्तार आरोपी को जेल भेज दिया गया है।साथ ही पिड़िता को मेडिकल के लिये भेजा गया है।सभी मामलों में स्पीडी ट्रायल कराकर आरोपियों को कड़ी सजा दिललवाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी।

You cannot copy content of this page