डीएम के औचक निरीक्षण में आवास सहायक मिला अनुपस्थित , कटेगी तनख्वाह और कारण बताओ का नोटिस होगा जारी

बेगूसराय, 17 दिसम्बर : डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने गुरुवार को भगवानपुर प्रखंड कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। अचानक ही डीएम की गारी प्रखंड कार्यालय पहुंचने से हड़कंप मच गया। डीएम ने सबसे पहले आरटीपीएस काउंटर का जायजा लेकर वहां लिए जा रहे आवेदनों के संबंध में जानकारी प्राप्त करने के बाद आवेदनकर्ताओं से भी पूछताछ किया। इसके बाद उन्होंने प्रखंड कार्यालय के उपस्थिति पंजी की जांच की तथा आवास सहायक चंद्रमोहन कुमार के अनुपस्थित रहने के कारण प्रखंड विकास पदाधिकारी को 15 दिन का वेतन कटौती करते हुए शोकॉज करने का निर्देश दिया है।

इस दौरान डीएम ने बीडीओ को प्रखंड के कर्मियों को ससमय कार्यालय आने तथा विभिन्न योजनाओं से संबंधित लंबित आवेदनों को ससमय एवं त्वरित गति से निष्पादन सुनिश्चित करवाने का निर्देश दिया। किसी कर्मी द्वारा अपने कार्यों में लापरवाही किए जाने पर अविलंब उस पर कार्रवाई करने को कहा गया है। भगवानपुर प्रखंड के भ्रमण के दौरान डीएम ने व्यापार मंडल का भी निरीक्षण किया, जहां क्रेडिट लिमिट के अनुरूप धान अधिप्राप्ति पाया। इसी क्रम में उन्होंने मैहदौली पैक्स एवं नरहरिपुर पैक्स का भी निरीक्षण किया। इन पैक्सों में भी क्रेडिट लिमिट के अनुरुप धान की अधिप्राप्ति की गई थी। निरीक्षण के दौरान नमी मापक यंत्र में कमी पाए जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए अविलंब उसमें सुधार लाने का निर्देश दिया गया है।

दूसरी ओर डीएम के निर्देश के आलोक में विभिन्न प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारियों के द्वारा भी संबंधित प्रखंडों में धान अधिप्राप्ति केंद्रों का निरीक्षण किया गया। इस क्रम में मटिहानी प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारी संजीत कुमार ने मनियप्पा एवं गोदरगामा पैक्स, नावकोठी प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारी निशांत कुमार ने रजाकपुर, डफरपुर एवं हसनपुर बागर पैक्स, छौड़ाही प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारी सुनंदा कुमारी ने अमारी, परोड़ा, शाहपुर एवं सहुरी पैक्स तथा बेगूसराय सदर प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारी राजेश कुमार ने कैथ, नीमा एवं हैवतपुर पैक्सों का निरीक्षण किया गया।